Tuesday, Oct 26, 2021
-->
Violence victims elderly and children will not have to wander for treatment

हिंसा पीड़ित बुजुर्गों और बच्चों को उपचार के लिए नहीं पड़ेगा भटकना

  • Updated on 9/17/2021

कोविड संक्रमितों को मेकशिफ्ट अस्पताल में मिलेगी सुविधा 
 

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राजधानी में बच्चों और बुजुर्गों के लिए राहत की खबर है। सूबे में किसी हिंसा के मामले में पीड़ित बच्चों और बुजुर्गों को अब उपचार के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। यहां तक की उपचार के लिए उन्हें ओपीडी या इमरजेंसी में नहीं जाना पड़ेगा।

पीड़ित बच्चों और बुजुर्गों को सफदरजंग अस्पताल में ही सभी तरह के उपचार मिल सकेंगे।
सफदरजंग अस्पताल में ऐसे रोगियों के लिए अलग अलग केंद्र स्थापित किये गए हैं। इन अधिकृत केंद्रों में इनके उपचार की व्यवस्था होगी। 

तीसरी लहर से मुकाबले की तैयारी : 
कोरोना की तीसरी लहर से मुकाबले के लिए सफदरजंग अस्पताल को तैयार करने का दावा किया गया है। जानकारी के मुताबिक यहां 44 बिस्तरों का मेकशिफ्ट अस्पताल बनाया गया है। जिसमें 28 आइसीयू और 16 आक्सीजन बिस्तर की उपलब्धता सुनिश्चित की गई है।

comments

.
.
.
.
.