Monday, Dec 09, 2019
virender sehwag sports special story bcci icc special story

Birthday Special : जानिए ‘मुल्तान के सुल्तान’ के करियर से जुड़े 10 अनसुने किस्से

  • Updated on 10/19/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। मुल्तान के सुल्तान, नजफगढ़ के नवाब, ट्विटर के बादशाह सहित तमाम उपनामों से शोभित पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) भले ही अब 22 गज की पिच पर नजर नहीं आते हों, लेकिन अपने निराले व हल्के-फुल्के अंदाज के लिए वो अब भी अपने फैंस के दिलों पर राज करते हैं। 

भारत की तरह लंबी पारियां खेलना चाहते हैं : डुप्लेसिस

वीरेंद्र सहवाग क्रिकेट (Cricket) से सन्यास लेने के बाद भी ट्विटर (Twitter) के जरिए अपने फैंस के बीच अपनी लोकप्रियता को बरकरार रखे हुए हैं। उनके इस मजेदार अंदाज के बड़े-बड़े क्रिकेटर व पूर्व क्रिकेटर भी दिवाने हैं। इन सब के बीच वो अपने परिवार को भी समय देना नहीं भूलते हैं। जानिए जन्मदिन पर उनके करियर से जुड़ी हुईं 10 अनसुनी बातें, जो आपको भी मजेदार लगेंगी।

करियर से जुड़ी 10 अनसुनी बातें...

- सहवाग का जन्म 20 अक्टूबर 1978 को हरियाणा (Hariyana) के एक जाट परिवार में हुआ था। सहवाग अपने माता-पिता के चार बच्चों के बीच तीसरे स्थान पर हैं। उनके पिता बताते हैं कि वीरु जब 12 साल का था, तब क्रिकेट खेलते हुए अपना दांत तुड़वाकर घर पहुंचा था। जिसके बाद उन्हें क्रिकेट खेलने से रोक दिया गया था। बाद में मां के हस्तक्षेप के बाद वीरु फिर मैदान में पहुंचे, उसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। 

मेरे और ऋषभ पंत के बीच अच्छी समझ: ऋद्धिमान साहा

- सहवाग ने पहला अंतराष्ट्रीय मैच (International Match) खेलने के 5 साल के भीतर ही आरती नाम की एक लड़की से शादी रचा ली थी। शादी के बाद अपने व्यस्त समय के बीच भी वीरु पत्नी आरती के लिए समय निकाल लेते थे। अभी दोनों पति-पत्नी अपने दो बच्चों के साथ दिल्ली के नजफगढ़ इलाके में रहते हैं। 

- सहवाग ने अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर की शुरुआत 1999 में पाकिस्तान (pakistan) के खिलाफ की था। इस मैच में वो महज 1 रन बनाकर पवेलियन लौट गये और गेंदबाजी के दौरान 35 रन भी लूटा डालें। उसके बाद वो लंबे समय तक टीम में आने के लिए तरस गए थे। 

महिला वनडे रैंकिंग: चोटिल होने के बाद मंदाना ने गंवाया नंबर एक स्थान

- वीरु का असली रुप, दुनिया ने 2001 में न्यूजीलैंड, श्रीलंका और भारत के बीच हुए ट्राई सीरीज में देखा था। इस सीरीज में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेलते हुए सहवाग ने 69 गेंदों में शतक जड़कर अपने हुनर का प्रदर्शन किया था। 

- विवियन रिचर्डस (Viv Richards) ने एक बार वीरु के बारे में बोलते हुए कहा था, “वीरेंद्र सहवाग भारत का एक ऐसा बल्लेबाज है। जिससे दुनिया का हर गेंदबाज खौफ खाता है”। वहीं तेजतर्रार ऑलराउंडर खिलाड़ी युसूफ पठान (yusuf Pathan) ने वीरु को सलामी बल्लेबाजों का आदर्श बताया था।

- मार्च 2010 में उन्होंने हैमिल्टन में न्यूजीलैंड के खिलाफ सिर्फ 60 में शतक ठोका था। टेस्ट क्रिकेट में पहले विकेट के लिए सबसे बड़ी साझेदारी का रिकॉर्ड भी सहवाग के ही नाम है। राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) के साथ 410 रन की साझेदारी बना करके दोनों ने इतिहास रचा था।

- सहवाग पहले ऐसे भारतीय खिलाड़ी थे जिन्होंने टेस्ट मैच में तिहरा शतक जड़ा था। ब्रेडमैन (Don Bradman) और ब्रायन लारा (Brian Lara) के बाद सहवाग दुनिया के ऐसे तीसरे बल्लेबाज हैं जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में दो बार तिहरा शतक बनाने का कीर्तिमान स्थापित किया है।

 - सहवाग टेस्ट क्रिकेट (Test Cricket) में सबसे तेज 150/200/250/300 बनाने वाले भारतीय बल्लेबाज हैं, साथ ही वीरेंद्र सहवाग टेस्ट क्रिकेट में तेजी से 3000/4000/7000 रन बनाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज भी हैं।

- 22 गज की पिच पर उतरकर सहवाग ने भारत को कई सारे मैच जीतवाए हैं। उन्हें कई बार भारत की ओर से खेलते हुए  “मैन ऑफ द मैच” का खिताब भी अपने नाम किया है। सहवाग की मौजूदगी में भारत ने आईसीसी (ICC) की दो टूर्नामेंट अपने किया है।

- पूर्व सलामी बल्लेबाज को कई सारे पुरस्कार से सम्मानित भी किया जा चुका है। 2002 में भारत सरकार ने उन्हें अर्जुन पुरस्कार (Arjun award) से सम्मानित किया था। इसके अलावा उन्हें 2008 में अपने बेहतर प्रदर्शन के लिए “विजडन लीडिंग क्रिकेटर इन द वर्ल्ड” के सम्मान से नवाजा गया। सहवाग ने इस करिश्मा को दोहराते हुए 2009 में यह सम्मान फिर अपने नाम किया।

 
 
 
 
Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.