Monday, Aug 15, 2022
-->
vivo india sent rs 62476 crore abroad to evade tax: enforcement directorate

Vivo India ने Tax से बचने के लिए 62,476 करोड़ रुपये विदेश भेजे: ED

  • Updated on 7/7/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बृहस्पतिवार को कहा कि चीनी स्मार्टफोन विनिर्माता वीवो की भारतीय इकाई ने यहां पर कर देनदारी से बचने के लिए अपने कुल कारोबार का लगभग 50 प्रतिशत हिस्सा यानी 62,476 करोड़ रुपये विदेशों में भेज दिए।

विवादित अग्निपथ योजना पर संसदीय सलाहकार समिति को जानकारी देंगे राजनाथ सिंह

 

     केंद्रीय जांच एजेंसी ने कहा कि वीवो इंडिया ने भारत में कर देने से बचने के लिए अपने राजस्व का बड़ा हिस्सा चीन एवं कुछ अन्य देशों में भेज दिया। विदेशों में भेजी गई राशि 62,476 करोड़ रुपये है जो उसके कारोबार का लगभग आधा हिस्सा है।   

राष्ट्रपति चुनाव: सिन्हा के पक्ष में हवा बनाने को पवार ने विपक्षी दलों के नेताओं से की मुलाकात

  ईडी ने कहा कि वीवो मोबाइल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड एवं इसकी 23 संबद्ध कंपनियों के खिलाफ बुधवार को चलाए गए सघन तलाशी अभियान के बाद उनके बैंक खातों में जमा 465 करोड़ रुपये की राशि जब्त की गई है। इसके अलावा 73 लाख रुपये की नकदी और दो किलोग्राम सोने की छड़ें भी जब्त की गई हैं।   

रुपये की गिरावट थामने के लिए RBI ने विदेशी मुद्रा प्रवाह से जुड़े मानकों को बनाया उदार

  प्रवर्तन निदेशालय ने कहा कि वीवो के पूर्व निदेशक बिन लाऊ ने भारत में कई कंपनियां बनाने के बाद वर्ष 2018 में देश छोड़ दिया था। अब इन कंपनियों के वित्तीय ब्योरों पर जांच एजेंसी की नजरें हैं।     

नकवी, सिंह के इस्तीफे के बाद ईरानी बनीं अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री, सिंधिया को मिला नया मंत्रालय

प्रवर्तन निदेशालय ने यह आरोप भी लगाया है कि वीवो इंडिया के कर्मचारियों ने उसकी तलाशी अभियान के दौरान सहयोग नहीं किया और भागने एवं डिजिटल उपकरणों को छिपाने की कोशिश भी की। हालांकि एजेंसी की तलाशी टीमें इन डिजिटल सूचनाओं को हासिल करने में सफल रहीं।     

comments

.
.
.
.
.