Monday, Jan 21, 2019

दो परमाणु संपन्न देशों के लिये युद्ध आत्महत्या की तरह- इमरान खान

  • Updated on 1/8/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पाकिस्तान के वजीरे आजम इमरान खान ने भारत पर अपने शांति के प्रस्तावों का जवाब नहीं देने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि दोनों ही देश परमाणु संपन्न देश है और ऐसे में कोई भी युद्ध दोनों देशों के लिए आत्मघाती साबित होगा। इमरान ने भारत के साथ बातचीत की इच्छा जाहिर करते हुए कहा कि शीत युद्ध भी दोनों देशों के हित में नहीं है।

International Kite Festival के रंग में रंगा अहमदाबाद, देखें खूबसूरत PICS

तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के मुखिया इमरान ने कहा कि दो परमाणु संपन्न देशों को युद्ध के बारे में नहीं सोचना चाहिये।  किसी भी प्रकार का  युद्ध बहुत खतरनाक रुख अख्तियार कर सकता है। ऐसे में केवल द्विपक्षीय वार्ता से ही आगे का रास्ता निकाला जा सकता है। उन्होंने कहा कि परमाणु संपन्न देशों के लिए युद्ध आत्महत्या की तरह है।

पाकिस्तान से बातचीत पर भारत का रुख
एक तरफ जहां इमरान भारत से बातचीत के जरिए हर प्रकार के मसले का हल निकालने की सोच  रहे हैं वहीं भारत इस बात पर अडिग है कि आतंक और बातचीत एक साथ नहीं हो सकतीं। इमरान ने पीएम बनते ही मीडिया से भारत के संबंध में कहा था कि अगर भारत एक कदम आगे बढ़ाता है तो हम दो कदम आगे बढ़ाएंगे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इमरान ने यह भी कहा है कि भारत कभी भी कश्मीरी लोगों के अधिकारों को दबाने में सक्षम नहीं होगा। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.