Saturday, Aug 15, 2020

Live Updates: Unlock 3- Day 15

Last Updated: Sat Aug 15 2020 04:25 PM

corona virus

Total Cases

2,530,876

Recovered

1,807,556

Deaths

49,134

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA572,734
  • TAMIL NADU326,245
  • ANDHRA PRADESH273,085
  • KARNATAKA211,108
  • NEW DELHI150,652
  • UTTAR PRADESH145,287
  • WEST BENGAL110,358
  • BIHAR98,370
  • TELANGANA88,396
  • GUJARAT76,569
  • ASSAM74,502
  • RAJASTHAN58,692
  • ODISHA54,630
  • HARYANA45,614
  • MADHYA PRADESH43,414
  • KERALA41,277
  • PUNJAB29,013
  • JAMMU & KASHMIR27,489
  • JHARKHAND22,125
  • CHHATTISGARH14,559
  • UTTARAKHAND11,615
  • GOA10,970
  • PUDUCHERRY6,995
  • TRIPURA6,782
  • MANIPUR4,198
  • HIMACHAL PRADESH3,874
  • NAGALAND3,322
  • ARUNACHAL PRADESH2,607
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS2,186
  • CHANDIGARH1,928
  • DADRA AND NAGAR HAVELI1,782
  • LADAKH1,688
  • MEGHALAYA1,228
  • SIKKIM1,080
  • DAMAN AND DIU838
  • MIZORAM657
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
we stand with the country and our security forces aap leader and cm arvind kejriwal pragnt

चीन की करतूत पर PM की सर्वदलीय बैठक, न्योता न मिलने पर अरविंद केजरीवाल ने कही ये बात

  • Updated on 6/19/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पूर्वी लद्दाख (Ladakh) में चीन-भारत सीमा (India China Border) पर मौजूदा गतिरोध पर चर्चा करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (AAP) नेता अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को आमंत्रित नहीं किया गया है। इस पर अब अरविंद केजरीवाल ने अपनी प्रतिकिया दी है। जिसमें उन्होंने कहा कि हम देश और सेना के साथ खड़े हैं। चीन के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

सर्वदलीय बैठक में न बुलाए जाने पर सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा, 'ये उनकी मर्जी है. उस पर मैं कुछ नहीं कहना चाहूंगा। उनको जो ठीक लगता है, वो करें, लेकिन हम देश और सेना के साथ हैं। चीन को सबक सिखाया जाए, चीन के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए।'

सर्वदलीय बैठक में RJD और AAP को नहीं बुलाने पर भड़के यशवंत सिन्हा, बोले- यह निचले स्तर की राजनीति

अहंकार से ग्रस्त है केंद्र सरकार
बता दें कि आम आदमी पार्टी को पीएम की सर्वदलीय बैठक में नहीं बुलाया गया है। जिसके बाद आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सासंद संजय सिंह (Sanjay Singh) भड़के हुए हैं। आप नेता संजय सिंह ने कहा कि पार्टी की दिल्ली में सरकार है और पंजाब में वह मुख्य विपक्षी पार्टी है फिर भी भाजपा (BJP) को उसके विचार नहीं चाहिए। सिंह ने ट्वीट किया, 'केंद्र में अहंकार से ग्रस्त अजीब सरकार है।'

सत्येंद्र जैन की हेल्थ को लेकर चिंतिंत गृह मंत्री अमित शाह, की जल्द स्वस्थ होने की कामना

सभी दलों को एक साथ होना चाहिए
सिंह ने कहा, 'आम आदमी पार्टी की दिल्ली में सरकार है। पंजाब में वह मुख्य विपक्षी पार्टी है। देश भर में उसके चार सांसद हैं लेकिन फिर भी भाजपा को इतने अहम मुद्दे पर उसकी राय नहीं चाहिए। प्रधानमंत्री बैठक में क्या कहेंगे, पूरा देश इसका इंतजार कर रहा है।' उन्होंने यह भी कहा कि राष्ट्रीय आपात के दौरान, सभी दलों को साथ आना चाहिए।

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री की फिर बिगड़ी तबीयत, रखा गया ऑक्सीजन सपोर्ट पर

भाजपा का फार्मूला है गलत
आप नेता और दिल्ली के मंत्री गोपाल राय (Gopal Rai) ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि आप को नहीं बुलाया गया है। उन्होंने कहा, 'सभी दलों को साथ लेने के बावजूद, भाजपा गणितीय फार्मूला का प्रयोग कर यह तय कर रही है कि किसे बुलाना है और किसे नहीं। यह दुर्भाग्यपूर्ण है।' राय ने कहा कि आप भी चीनी आक्रमकता के खिलाफ शनिवार से राष्ट्रव्यापी प्रदर्शन शुरू करेगी और पार्टी के विधायक अपने संबंधित निर्वाचन क्षेत्रों में प्रदर्शन करेंगे।

भारत-चीन सीमा विवाद पर सर्वदलीय बैठक में AAP को न्योता नहीं, भड़के संजय सिंह

भारत-चीन गतिरोध पर PM की सर्वदलीय बैठक
समझा जाता है कि सभी मान्यताप्राप्त राष्ट्रीय दलों - जिनके पास लोकसभा में पांच सासंदों से ज्यादा है, पूर्वोत्तर के प्रमुख दलों और केंद्रीय कैबिनेट मंत्रियों वाले दलों को सर्वदलीय बैठक के लिए आमंत्रित किया गया है। यह बैठक आज शाम को होगी और यह लद्दाख की गलवान घाटी में भारतीयों और चीनी सैनिकों के बीच हिंसक झड़प के विपक्ष द्वारा ब्यौरे मांगे जाने के बीच हो रही है।

सीमा पर तनातनी को लेकर सर्वदलीय बैठक आज, नहीं बुलाने से तेजस्वी यादव हुए खफा

20 भारतीय जवान शहीद
बता दें कि लद्दाख की गलवान घाटी में भारत चीन के बीच हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवान शहीद हो गए। वहीं चीन के भी 40 से ज्यादा जवान घायल हैं और मारे गए हैं। लेकिन इस बात की अभी पुष्टि नहीं की गई है। चीन की ओर से उनके नुकासान को लेकर कोई आंकड़ा जारी नहीं किया गया है। चीन का आरोप है कि भारत लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल को लांघने की कोशिश कर रहा है, जिसके कारण ये विवाद हुआ है। हालांकि भारतीय सेना किसी भी प्रकार तय नियमों का उल्लंघन नहीं किया है। वहीं कई राजनीतिक दल अब केंद्र की मोदी सरकार से सीमा पर हो रहे विवाद को लेकर प्रश्न कर रहे हैं। ऐसे में पीएम मोदी ने एक सर्वदलीय बैठक बुलाई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.