Thursday, Jun 30, 2022
-->
we work, we are not able to promote cm nitish kumar prshnt

हम काम करते हैं, प्रचार करने में सक्षम नहीं हैं: CM नीतीश कुमार

  • Updated on 6/6/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पर्यावरण दिवस पर एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए अपने सरकार की उपलब्धियों को गिनाया। इस दौरान उन्होंने पल्स पोलियो और पर्यावरण पर शुरू किए गए जल जीवन हरियाली कार्यक्रम का भी जिक्र किया। नीतीश कुमार ने इस दौरान कहा कि जब उन्होंने जल जीवन हरियाली कार्यक्रम को लेकर बिल गेट्स को बताया तो उन्होंने दिल्ली में जाकर एक इंटरव्यू में कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री पर्यावरण संरक्षण को ले कर इतने सजग हैं।

दरअसल बिहार के मुख्यमंत्री कोरोना काल के दौरान पूरे देश में लगे लॉक डाउन में शायद ही प्रेस या अन्य किसी साधन से द्वारा उन्होंने देशभर में प्रवासी मजदूरों के साथ कोई संवाद किया है, सीएम नीतीश कुमार को इस बात का मलाल है कि उनकी सरकार का पब्लिसिटी होता ही नहीं है या सक्षम नहीं है। पर्यावरण दिवस पर कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कई बातों को सामने रखा।

वंदे भारत मिशन: विदेशों से लोगों को वापस बुलाने का काम जारी, तीसरे चरण की बुकिंग हुई शुरू

गांधी शताब्दी समारोह के सिलसिले में चर्चा
गांधी शताब्दी समारोह के सिलसिले में भी कार्यक्रम में चर्चा की उन्होंने बताया कि लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में इस बात को दर्ज कराया गया है कि गांधी के संदेशों को डेढ़ करोड़ घर तक पहुंचाया गया है। इस दौरान नीतीश कुमार ने फिर से दोहराया कि हम प्रचार करने में सक्षम नहीं है और उन्होंने वादा किया कि बिहार में एक भी एक दिन में ढाई करोड़ पेड़ लगाकर फिर एक नया रिकॉर्ड बनाया जाएगा।

ट्रेड यूनियन श्रमिक विरोधी नीतियों को लेकर 3 जुलाई को उतरेगी सड़कों पर 

राज्य को बेहतर बनाने के लिे सहयोग की मांग
इस कार्यक्रम के अवसर पर भारत सरकार के पूर्व पर्यावरण सचिव सीके मिश्रा भी मौजूद रहे। ऐसे में जब नीतीश कुमार ने उन्हें बिहार में अपने कार्यकाल के दौरान स्वास्थ्य मंत्री के रूप में दो बार सूचित किया तो एक अधिकारी द्वारा रोके जाने पर उन्होंने कहा कि अब तो वह अधिकारी नहीं रहे हैं तो वह मंत्री बन सकते हैं। वहीं सीएम नीतीश कुमार ने अपने भाषण के अंत में सीके मिश्रा को संबोधित करते हुए कहा कि अब तो आपकी सेवा यही चाहेंगे, कीजिएगा या नहीं कीजिएगा यह तो आपकी मर्जी है और उन्होंने कहा कि आप लोगों को अपने राज्यों को बेहतर बनाने में सहयोग करना चाहिए।

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें

comments

.
.
.
.
.