Tuesday, Jul 23, 2019

साम्प्रदायिकता के खिलाफ पश्चिम बंगाल विधानसभा में दो प्रस्ताव पारित

  • Updated on 7/12/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पश्चिम बंगाल विधानसभा ने राज्य में बढ़ रही साम्प्रदायिकता के खिलाफ सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और विपक्षी दलों कांग्रेस-माकपा की ओर से पेश दो अलग-अलग प्रस्तावों को गुरुवार को पारित कर दिया। इस संबंध में तृकां का कहना है कि साम्प्रदायिकता से लड़ने के लिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ही एकमात्र विश्वस्त चेहरा हैं।

#BJP में शामिल होने वाले विधायकों ने अपनी कब्र खुद खोदी : गोवा कांग्रेस

गौरतलब है कि राज्य के विधायी कार्य मंत्री पार्थ चटर्जी ने दोनों पक्षों को समझाने का प्रयास किया था कि वे इस मुद्दे पर साथ आएं और सिर्फ एक-दूसरे के खिलाफ राजनीतिक लाभ लेने के लिए अलग-अलग प्रस्ताव ना लाएं। लेकिन बात नहीं बनी और दोनों पक्षों ने सदन में अपना-अपना प्रस्ताव रखा।

#CBI ने 100 करोड़  के विज्ञापन घोटाले में रेलवे अधिकारियों पर कसा शिकंजा

पश्चिम बंगाल में साम्प्रदायिक बलों के सिर उठाने को लेकर अकसर तृणमूल कांग्रेस की आलोचना करने वाले कांग्रेस और माकपा का कहना है कि लोकसभा चुनाव में भाजपा का अच्छा प्रदर्शन सिर्फ धार्मिक आधार पर ध्रुवीकरण का नतीजा है। वहीं भाजपा बनर्जी और उनकी सरकार पर मुसलमानों के तुष्टीकरण का आरोप लगाती है। 

कर्नाटक सियासी घमासान : अब #BJP रखेगी अपने विधायकों को रिसॉर्ट में

हालांकि ‘शांति और साम्प्रदायिक सौहार्द बनाए रखने’ से जुड़े प्रस्तावों पर सदन में एक साथ ही चर्चा हुई। चर्चा के दौरान राज्य के निकाय मामलों के मंत्री फिरहाद हकीम ने कहा, ‘‘साम्प्रदायिकता आज देश के सामने सबसे बड़ा खतरा है। 

पाकिस्तान : वीडियो विवाद के बाद भ्रष्टाचार निरोधक न्यायाधीश पर गिरी गाज

‘जय श्री राम’ और ‘अल्लाहू अकबर’ का नारा लगाना कोई अपराध नहीं है अगर यह मंदिर और मस्जिद में लगाए जाएं। लेकिन अगर दूसरों की भावनाओं को आहत करने के लिए ऐसा किया जाए तो वह अपराध है। हमें साम्प्रदायिकता के खिलाफ लडऩा है।’’ 

#CBI छापेमारी पर वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

चटर्जी ने कहा कि साम्प्रदायिकता से लडऩे में कौन ज्यादा गंभीर है, इसपर चर्चा करने के बजाए हमें साथ मिलकर इस बुराई से लडऩा चाहिए। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि साम्प्रदायिकता से लडऩे में ममता बनर्जी से ज्यादा विश्वस्त नेता और कोई नहीं।

अब BSF और CRPF की तरह होगा रेल सुरक्षा बल (RPF) का दर्जा

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.