Friday, May 07, 2021
-->
what-agency-should-be-contacted-for-governor-security-kalraj-mishra-prsgnt

गहलोत के इस बयान पर भड़के राज्यपाल कलराज मिश्र पूछा- गवर्नर की सुरक्षा की जिम्मेदारी किसकी है?

  • Updated on 7/25/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। अशोक गहलोत के राजभवन को घेरने वाले बयान पर राज्यपाल कलराज मिश्र ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए पूछा है कि अगर राज्यपाल की सुरक्षा मुख्यमंत्री नहीं कर सकता तो फिर यह किसकी जिम्मेदारी है। 

इस बारे में राज्यपाल कलराज मिश्र ने सीएम अशोक गहलोत को पत्र भी लिखा है. इस पत्र में उन्होंने कहा है कि "मैं विधानसभा सत्र के लिए विशेषज्ञों से सलाह-मशविरा करता, आपने पहले ही कह दिया कि अगर राजभवन का घेराव होता है, तो यह आपकी जिम्मेदारी नहीं होगी।"

उन्होंने आगे कहा, "अगर आप राज्यपाल की सुरक्षा नहीं कर सकते, तो राज्य में कानून-व्यवस्था का क्या होगा?  किस सुरक्षा एजेंसी से संपर्क करना होगा? मैंने आज तक कभी भी किसी सीएम से इस तरह का बयान नहीं सुना। विधायकों का राजभवन में प्रदर्शन... क्या यह एक गलत ट्रेंड की शुरुआत नहीं?"

राजभवन में धरना खत्म, CM गहलोत बोले- राजस्थान में बह रही है उल्टी गंगा 

अशोक गहलोत ने क्या कहा था
राजभवन जाने से ठीक पहले विधानसभा सत्र को लेकर अशोक गहलोत ने कहा था कि राज्यपाल महोदय हम सब अभी राजभवन के अंदर आ रहे हैं,  आप दबाव में किसी के नहीं आएं, आपका संवैधानिक पद है, आपने शपथ ली हुई है, आप अपनी अंतरआत्मा के आधार पर और शपथ की जो भावना होती है उसको आधार बनाकर फैसला करियेगा, वरना फिर ये भी हो सकता है कि पूरे प्रदेश की जनता अगर राजभवन को घेरने के लिए आ गई तो फिर हमारी जिम्मेदारी नहीं होगी।

गहलोत ने दी सफाई
अपने बयान पर गहलोत ने कहा, ''1993 में भैंरोसिंह शेखावत ने भी ऐसा ही कहा था. उन्होंने कहा था कि अगर बहुमत मेरे पास है और हमें बुलाया नहीं गया तो राजभवन का घेराव होगा। राजभवन का घेराव होगा... ये एक तरह की राजनीतिक भाषा होती है। जनता को समझाने और संदेश देने के लिए।"

राजस्थान प्रकरण : पायलट खेमे के विधायकों की सफाई, बोले- नहीं बनाया हुआ है बंधक

संवैधानिक मर्यादा से सबसे ऊपर
वहीँ, इससे पहले ही राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा था कि संवैधानिक मर्यादा से ऊपर कोई नहीं होता है और कभी भी किसी प्रकार की दबाव की राजनीति नहीं होनी चाहिए। राज्यपाल मिश्र का यह बयान राजभवन की ओर से शुक्रवार की रात को जारी किया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.