Monday, Feb 06, 2023
-->
what-is-colon-infection-irfan-khan-dead-know-about-cause-and-effect-prsgnt

कोलोन इंफेक्शन की वजह से हुई इरफान की मौत, जानिए क्या हैं इसके कारण और बचाव

  • Updated on 4/29/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता इरफ़ान खान ने आज इस दुनिया को अलविदा कह दिया। 53 वर्षीय इरफ़ान खान का पेट की बीमारी के चलते निधन हो गया। उन्हें बीते सोमवार हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया था, जहां उनकी हालत नाजुक बनी हुई थी। उन्हें आईसीयू में ट्रीटमेंट दिया जा रहा था लेकिन देर रात उनकी कंडीशन ज्यादा बिगड़ गई और आज उन्होंने कोकिलाबेन अस्पताल में आखिरी सांस ली।

बताया जा रहा है कि इरफान खान की मृत्यु उनकी बीमारी कोलोन इंफेक्शन के कारण हुई। उनकी मौत के साथ ही कोलोन इंफेक्शन चर्चा का कारण बन गया है। आईये इसके बारे में बताते हैं।

नहीं रहे बॉलीवुड के इरफान खान, मां की यह आरजू भी रह गई अधूरी

कोलोन इंफेक्शन
कोलोन इंफेक्शन पेट से जुड़ी बीमारी है इसे कोलाइटिस भी कहा जाता है। यह एक इंफेक्शन है जो वायरस, बैक्टीरिया या परजीवी की वजह से फैलता है। इस इन्फेक्शन से अगर कोई पीड़ित होता है तो उसे पेट दर्द, बुखार और मोशन की प्रॉब्लम हो जाती है।

बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान की मौत पर केजरीवाल ने जताया दुख, कही ये बात

क्या है इसके लक्षण
कोलोन इंफेक्शन होने वाले ब्यक्ति को पेट दर्द, डायरिया, मोशन की प्रॉब्लम, कब्ज, गैस, थकान, कमजोरी और मल त्याग करने में दिक्कत/जलन जैसी समस्याएं होती हैं। इस बीमारी में मल के साथ खून भी आता है। साथ ही मरीज का तेजी से वजन गिरने लगता है। दरअसल, कोलन इंफेक्शन से बड़ी आंत/मलाशय की सतह पर मौजूद कोशिकाएं मरने लगती है जो अल्सर का भी कारण बनती हैं।

इरफान खान की मौत की खबर के बाद Twitter पर छाया मातम, फैंस ने मानने से किया इनकार

क्या है कारण
कोलोन  इंफेक्शन कई कारणों से हो सकता है जैसे- खराब खाना खाने से या ऐसा कुछ खाने से जो हम आसानी से पचा नहीं पा रहे हो, गंदा पानी पीने से या पाचन क्रिया के दौरान मलाशय में कई तरह के कैमिकल बनने से इंफेक्शन हो जाता है।

इरफान खान की मौत पर PM समेत देश के इन दिग्गज नेताओं ने जताया शोक, दी श्रद्धांजलि

ये कई तरह का होता है
कोलोन इंफेक्शन कई तरह का होता है। इसका इलाज भी तभी किया जा सकता है जब ये पता हो कि किस तरह का कोलोन इंफेक्शन हुआ है। ज्यादातर 4 तरह का कोलोन अभी तक देखा गया है।
-इस्केमिक कोलाइटिस: इसमें कोलन में खून का चलना ठीक से नहीं हो पाता और यह  इस्केमिक कोलाइटिस का कारण बन सकता जाता है।

-एलर्जिक कोलाइटिस बड़ों की अपेक्षा बच्चों को होने वाली बीमारी है। ये कुछ चीजों से एलर्जी के वजह से होता है।

साधारण कद-काठी का शानदार अभिनेता, जिसने अभिनय के हर पहलू को जिया

-बॉडी में जब लिम्फोसाइट की मात्रा बढ़ जाती है तब माइक्रोस्कोपिक कोलाइटिस हो जाता है। यह इतना सूक्ष्म स्तर का होता है कि इसे केवल माइक्रोस्कोप के द्वारा ही देखा जा सकता है।

-कुछ लोगों में सूजन-कम करने की दवाओं की वजह से कोलन में सूजन की समस्या आ जाती है। इसे ड्रग कोलाइटिस कहते हैं। यह एंटी-स्टेरॉयड एंटी-इंफ्लैमेटरी दवाओं की वजह से ऐसा होता है। ऐसे लोग जिन्होंने लंबे समय तक ऐसी दवाओं का इस्तेमाल करते हैं  उन्हें इस कोलाइटिस का खतरा रहता है।

इरफान खान के निधन पर पूरा बॉलीवुड सदमे में, सोशल मीडिया पर ऐसे कह रहे हैं अलविदा

कैसे कर सकते हैं बचाव
इसके लिए आपको खून पानी पीने की आदत डालनी होगी। साथ ही खाने में सेहतमंद पेय पदा‍र्थों जैसे दूध, फलों का जसू, दही, छाछ, नींबू पानी को ज्यादा शामिल करना होगा और  पाचन क्रिया को सही रखने के लिए फाइबर से भरपूर भोजन लेना होगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.