what is duckworth lewis method and how its work

World Cup: जानें, डकवर्थ लुईस नियम क्या है और कैसे होता है इसका इस्तेमाल?

  • Updated on 7/10/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। विश्व कप (ICC World Cup 2019) के पहले सेमीफाइनल में मंगलवार को फिर बारिश ने बाधा डाली और मैच को रिजर्व डे के लिए टालना पड़ा। भारत (India) और न्यूजीलैंड (New  Zealand) के बीच चल रहे इस मैच को आज फिर उसी जगह से शुरू किया जाएगा जहां से ये कल बारिश के वजह से बंद हुआ था। अगर क्रिकेट के खेल में बारिश या किसी अन्य प्रकार से जब बाधा पड़ती है तो मैच का परिणाम निकालने के लिए एक नियम लागू किया जाता है, उस नियम को डकवर्थ लुईस (Duckworth Lewis Method) नियम के नाम से जाना जाता है। हर किसी के मन में डकवर्थ लुईस क्या है और किस आधार पर इसका आकलन किया जाता है ये सवाल रहता है। आज हम आपको इस नियम के बारे में बताने जा रहे हैं। 

Image result for india vs new zealand world cup 2019

डकवर्थ लुईस मेथड को दो अंग्रेज गणितीय विशेषज्ञों ने तैयार किया था। इनका नाम फ्रैंक डकवर्थ और टोनी लुईस है। इस मेथड को आंकड़ों के विश्लेषण के लिए बेहद सटीक माना गया है और निर्धारित ओवरों वाले मैच में इस नियम की गणना को स्वीकार करते हुए लागू करने की परंपरा शुरू की गई।

दुती चंद ने गोल्ड मेडल जीतकर रचा इतिहास, बनी ऐसा करने वाली पहली भारतीय महिला

पहली पारी के आकड़ों का किया जाता है इस्तेमाल

डकवर्थ लुईस नियम से दूसरी पारी में खेलने वाली टीम के लिए एक लक्ष्य निर्धारित किया जाता है। जो पहली टीम द्वारा बनाए गए कुल रन, उनके खोए विकेटों की संख्या और कुल खेले गए ओवरों के आंकड़ों का इस्तेमाल करने की जानकारी को ध्यान में रखकर तैयार किया जाता है।

Image result for duckworth lewis method

जब डीएल मेथड बना डीएलएस मैथड

साल 2015 में डकवर्थ लुईस फॉर्मूला बदलकर डकवर्थ लुईस स्टर्न फॉर्मूला हो गया। इसमें क्वींसलैंड यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर स्टीव स्टर्न के द्वारा किए गए शोध को भी जगह दी गई, जिसमें टीमों के लिए शुरुआत में लक्ष्य का पीछा करते हुए विकेट बचाकर रखने के साथ-साथ तेजी से रन बनाने को भी शामिल किया गया है। इसके बाद इसे डीएल की जगह डीएलएस मैथड कहा जाने लगा।

World Cup: भारत- न्यूजीलैंड मैच में बारिश भी बिगाड़ सकती है खेल

कैसे काम करता है फार्मूला?

जैसे मान लीजिये पहले खेलने वाली टीम ने 50 ओवर में 250 रन बनाए और दूसरी टीम ने 5 विकेट खोकर 40 ओवर में 199 रन बना चुकी है और बारिश आ जाती है मैच में और खेल रोक दिया जाता है । ऐसी स्थिति में अब विनर का पता लगाने के लिए डकवर्थ लुईस का नियम लाया जाता है। पहले खेलने वाली टीम ने 50 ओवर खेले यानि उस टीम ने 100% साधन का इस्तेमाल किया है, दूसरी टीम जब मैदान पर उतारी थी तो उसके पास भी 100% साधन थे। उन्होंने 40 ओवर में 5 विकेट खोकर कुछ रन बनाये। अब बारिश की वजह से मैच रुक गया।

Image result for duckworth lewis method

तब डकवर्थ लुईस नियम की टेबल के हिसाब से उस टीम के पास 27.5 साधन बाकी बचे थे। मतलब दूसरी यानि दूसरी पारी खेलने वाली टीम के 27.5% साधन का नुकसान हो गया। मतलब 100 - 27.5 = 72.5% साधन ही उसने इस्तेमाल किये. उसे पहले खेलने वाली टीम के मुकाबले कम साधन मिले तो दूसरी टीम का स्कोर साधनों के हिसाब से घटाना होगा। यानि 72.5/100

World Cup: जीतने वाली टीम को मिलेगी मोटी रकम, बाकी टीमों ने भी कमाए करोड़ों

पहली टीम ने बनाये थे 250 यानि दूसरी टीम का टारगेट 250 x 72.5/100 = 181.25 होगा। तो दूसरी टीम को अब टोटल 182 रन चाहिए। पर वो पहले ही 199 रन बना चुकी है यानि दूसरी टीम 18 रन से ये मैच जीत चुकी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.