Sunday, Mar 24, 2019

500 करोड़ के क्लब वाले हरिद्वार से रेलवे की ये कैसी 'बेवफाई'

  • Updated on 3/12/2019

हरिद्वार, 12 मार्च (नवीन पाण्डेय): 500 करोड़ के क्लब में धर्मनगरी का रेलवे स्टेशन शामिल होकर एनएसजी—दो का तमगा हासिल कर चुका है लेकिन रेलवे की 'झोली' भरने वाले इस स्टेशन से गुजरने वाले यात्रियों के साथ रेलवे मंत्रालय ने ही 'बेवफाई' कर दी है।

यह तब हुआ है जब पहले से ही यूके, यूपी, बिहार, राजस्थान, मध्यप्रदेश सहित अन्य राज्यों को जाने वाली रेलगाड़ियां होली के बाद तक कैंसिल हैं जबकि कोहरे की वजह से कैंसिल रहने वाली ये रेलगाड़ियां हर बरस फरवरी के मध्य में पटरी पर उतर आती हैं। जिससे होली पर स्पेशल रेलगाड़ी नहीं भी संचालित हो तो भी यात्रियों को बहुत सहूलियत मिल जाया करती थीं, पर अबकी कमाई वाले इस रेलवे स्टेशन से यूं 'बेवफाई' कोई समझ नहीं पा रहा है। 

हरिद्वार रेलवे स्टेशन से हर दिन एक्सप्रेस और पैसेंजर 44 जोड़ी रेलगाड़ियां संचालित होती है। एनएसजी—दो यानि नॉन सब अरबन ग्रेड में रेल मंत्रालय ने शामिल करते हुये एयरपोर्ट जैसी सुविधा बहाल करने की दिशा में कदम बढ़ाया, पर यहीं पर रेलवे ने धर्मनगरी से गुजरने वाली रेलगाड़ियों से 'बेवफाई' भी कर दी।

होली स्पेशल नाम से दिल्ली सहित कई राज्यों से विशेष रेलगाड़ियों का संचालन होता है ताकि यात्री बिना किसी परेशानी के अपने घर पहुंचकर त्योहार को अपने परिवार के साथ मना सके। लेकिन यहां तो उल्टी ही गंगा रेलवे ने बहा दी।

अमूमन कोहरे की वजह से देहरादून से वाराणसी और देहरादून से उज्जैन तक चलने वाली रेलगाड़ियां हर साल फरवरी के दूसरे सप्ताह से शुरू हो जाती थी ताकि होली पर जाने वाले यात्रियों को सहूलियत मिल सके लेकिन अबकी तो ये रेलगाड़ियां होली के बाद तक के लिये कैंसिल हैं।

जाहिर है दूसरे रेलगाड़ियों पर यात्रियों का दबाव है। जिसकी वजह से स्लीपर, तृतीय वातानुकूलित, द्विवतीय वातानुकूलित, प्रथम वातानुकूलित में होली के आसपास जगह नहीं है। 

3000 से अधिक यात्रियों की मुश्किलें बढ़ी

देहरादून से वाराणसी और देहरादून से उज्जैन तक जाने वाली रेलगाड़ियों के कैंसिल होने का मतलब सीधा है कि कम से कम 3000 यात्रियों को मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा। उन्हें बस सहित अन्य विकल्प या मजबूर कष्ट सहकर यात्रा करनी होगी। 

कोहरे के दौरान कैंसिल हुई अमूमन रेलगाड़ियां फरवरी के दूसरे सप्ताह तक संचालित हो जाती थी, पर अबकी दो रेलगाड़ियां होली तक नहीं संचालित हुईं। कोई स्पेशल रेलगाड़ी भी नहीं चली। जिसकी वजह से यात्रियों को परेशानी तो होगी। 

एमके सिंह, स्टेशन अधीक्षक, हरिद्वार 

12—एचआरडी—01—हरिद्वार स्टेशन।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.