Tuesday, Dec 07, 2021
-->
when there is a rift between channi and sidhu, how will rahul break the political ploy albsnt

जब चन्नी-सिद्धू में है अनबन तो कैप्टन के सियासी चाल का तोड़ कैसे निकालेंगे राहुल?

  • Updated on 10/28/2021

नई दिल्ली/कुमार आलोक भास्कर। राजनीति भी टेढ़ी चाल चलती रहती है। कल तक जो कैप्टन पंजाब कांग्रेस की शान हुआ करते थे, वे आज हाशिये पर खड़े है। पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह कुछेक दिन पहले तक ही सीएम थे। लेकिन कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व ने जिस तरह नवजोत सिंह सिद्धू के जिद्द के सामने झुकते हुए कैप्टन से सीएम की कुर्सी छिनी उससे पंजाब के पूर्व सीएम पलटवार के लिये सही समय का इंतजार कर रहे है। इसी कड़ी में कैप्टन के नई पार्टी बनाने की घोषणा से होने वाले डेमेज कंट्रोल पर चर्चा के लिये सीएम चरणजीत सिंह चन्नी दिल्ली पहुंचे है। जहां उन्होंने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की है।

Congress ने बदली रणनीति, BJP से पहले सहयोगी को निपटाने की क्या है मजबूरी?

कांग्रेस भी सिद्धू को लेकर पड़ा पशोपेश में

बता दें कि कांग्रेस कैप्टन के उस बयान को काफी करीब से नजर रख रही है जिसमें उन्होंने दावा किया कि कई कांग्रेस के नेता उनके संपर्क में है। राज्य के नए सीएम चरणजीत सिंह चन्नी से वैसे कभी कैप्टन का छत्तीस का आंकड़ा तो रहा नहीं है। लेकिन चूंकि कैप्टन के निशाने पर सिद्धू और गांधी परिवार है। तो ऐसे में चन्नी के सामने सबसे पहले आगामी विधानसभा चुनाव में फिर से कांग्रेस की वापसी कराने की प्रमुख जिम्मेदारी रहेगी। 

बिहार उपचुनाव में 'युवा बिहारी नेताओं' का चलेगा सिक्का या फिर बजेगा सुशासन बाबू का डंका? 

अमिरंदर सिंह जल्द करेंगे पार्टी की घोषणा 

मालूम हो कि चन्नी पार्टी के संगठन को लेकर बहुत बड़े फैसले नहीं ले सकते है। कारण राज्य के कांग्रेस का कमान नवजोत सिंह सिद्धू के हाथ में है। जो कल तक अमरिंदर सिंह की कुर्सी छीनने पर तुले हुए थे तो आज चन्नी के चौंकाने वाले निर्णय से नाराज बताये जा रहे है। ऐसे में कांग्रेस का नैया कैसे पार होगा भगवान ही जानता है। सिद्धू ने जिस तरह से कैप्टन के लिये 18 सूत्री एजेंडा पर काम करने की पैरवी की थी तो अब चन्नी से भी 13 सूत्री एजेंडे पर सफाई मांगते फिरते है। जिससे चन्नी से लेकर राहुल-सोनिया तक खामोशी बनाये हुए है। हालांकि पंजाब कांग्रेस में मचा घमासान तब शांत लगने की उम्मीद जगी जब सिद्धू ने राहुल से मुलाकात करके अपना इस्तीफा वापस ले लिया। लेकिन सिद्धू के अगले कदम को लेकर कोई नहीं जानता है कि गुरु फिर से कौन-सा बम फोड़ दे?  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.