Monday, Jun 27, 2022
-->
windergy-india-2022-will-be-organized-from-27-to-29

विंडरजी इंडिया 2022 का 27 से 29 तक होगा आयोजन

  • Updated on 4/22/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। प्रगति मैदान में 27 से 29 अप्रैल तक विंडरजी इंडिया 2022 (चौथे अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले व सम्मेलन) का आयोजन किया जाएगा। इस समारोह में 150 से अधिक कंपनियां अपने उत्पाद, समाधान और प्रौद्योगिकी कौशल का प्रदर्शन करेंगी। तीन दिवसीय इस प्रदर्शनी में भारत के विद्युत, नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय मंत्री आरके सिंह, रसायन और उर्वरक मंत्रालय और नवीन एवं नवीकरणीय उर्जा मंत्रालय राज्य मंत्री भगवंत खुबा, डेनमार्क के राजदूत फे्र डी स्वेन, कर्नाटक सरकार के विद्युत मंत्री सुनील कुमार सहित उद्योग जगत की दिग्गज हस्तियां हिस्सा लेंगी। 

12 क्षेत्रीय भाषाओं में बदले जाएंगे 80 मूक कोर्स

150 से अधिक कंपनियां पेश करेंगी अपने उत्पाद व प्रौद्योगिकी कौशल
इंडियन विंड टर्बाइन मैन्यूफैक्चर्स एसोसिएशन (आईडब्ल्यूटीएमए) अध्यक्ष तुलसी तांती ने इस बारे में वीरवार को होटल शंगरी-लॉ में आयोजित वार्ता में कहा कि विंडरजी इंडिया 2022 पवन ऊर्जा क्षेत्र का एकमात्र व्यापाक व्यापार कार्यक्रम है, जिसका आयोजन आईडब्ल्यूटीएमए और पीडीए ट्रेड फेयर प्राइवेट लिमिटेड द्वारा किया जाएगा। इस व्यापक पवन ऊर्जा कार्यक्रम को नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय समेत दर्जनों कंपनियों का समर्थन प्राप्त है। इस आयोजन में डेनमार्क भारत का पार्टनर देश है। तुलसी तांती ने कहा कि सीओपी 26 में भारत द्वारा किए गए कमिटमेंट के अनुसार भारत के लिए रिन्यूएबल एनर्जी एसेट्स और आईई विनिर्माण में वैश्विक निवेश को आकर्षित करने के लिए यह एक बड़ा अवसर है। 

आईआईटी दिल्ली 23 को आयोजित करेगा साई टेक स्पिन्स का 8वां लेक्चर

तीन दिवसीय सम्मेलन में हिस्सा लेंगे कैबिनेट मंत्री आरके सिंह
उन्होंने कहा कि भारत पवन ऊर्जा उद्योग के जरिए 10000 मेगावाट पवन टरबाइन की वार्षिक निर्माण क्षमता रखता है, जिसे 15000 मेगावाट तक बढ़ाया जा सकता है। इससे ग्रामीण क्षेत्रों में 2 मिलियन से ज्यादा रोजगार भी प्राप्त होंगे। और भारत के 2030 तक 500 गिगाबाट आरई के लक्ष्य का 50 फीसद हासिल करने में मदद मिलेगी।

comments

.
.
.
.
.