Tuesday, Oct 04, 2022
-->
with-the-influx-of-enthusiasm-and-faith-of-shiva-devotees-sultry-atmosphere

शिवभक्तों के उत्साह और आस्था के सैलाब से शिवमय हुआ माहौल

  • Updated on 7/25/2022

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। हाथों में पूजा की थाली, जल या दूध लिए भगवान शिव का जलाभिषेक करने की प्रतीक्षा कर रहे शिव भक्तों के लिए इस वक्त भगवान भोले नाथ के दर्शन और पूजन से बड़ा कोई और उद्देश्य नहीं है। इसकी तस्दीक होती है प्रसिद्ध दुधेश्वरनाथ मंदिर में श्रावण मास के दूसरे सोमवार पर लगी शिवभक्तों की लंबी कतारें। जो रात के अंधेरे से शुरू होकर तपती दोपहरी में भी भगवान भोलेनाथ के लिए दर्शनों के लिए उत्साहित दिखती है। ऐसा ही उत्साह कांवड़ यात्रियों में भी नजर आ रहा है। सैकड़ों किलोमीटर का पैदल सफर करने के बाद भी उनके चेहरे पर थकान से ज्यादा उत्साह नजर आता है। उन्हें पैरों के छालों का दर्द सताता नहीं बल्कि बोल बम का उद्घोष उनमें उर्जा का संचार करता है। शिव भक्तों की सेवा के लिए लगाए गए कांवड़ शिविरों में सेवा दे रहे लोग भी इसी ऊर्जा से परिपूर्ण नजर आते हैं। मंगलवार को शिवरात्रि है लेकिन उससे पहले पूरे शहर का माहौल शिवमय हो गया है। 

बड़ी संख्या में वापस लौट रहे शिवभक्त
मेरठ रोड कांवड़ मार्ग अब पूरी तरह से भगवा रंग में रंग चुका है। कांवड़ यात्रा अब अंतिम चरण में पहुंच गई है। रोड के दोनों और सिर्फ कांवडिय़ां ही नजर आ रहे हैं। सिर्फ स्थानीय कांवडिय़ा ही नहीं, अब डाक कांवडिय़ां भी बडी संख्या में अपने गंतव्य की ओर लौट रहे हैं। शिवरात्रि का जलाभिषेक कल रात नौ बजे के बाद से शुरू होगा। ऐसे में हजारों की संख्या में कांवडिय़ों के आने का सिलसिला बदस्तूर जारी है। कोई कांवड़ का ग्रुप शिव परिवार की झांकी लेकर आ रहा है तो कोई कांवडिय़ा मां शक्ति की झांकी के साथ अपनी कांवड़ लेकर लौट रहे हैं। 

कांवड़ सेवा के जरिए दिया जा रहा साम्प्रदायिक सौहार्द का संदेश 
कांवड़ सेवा के लिए मार्ग में कई शिविर ऐसे भी हैं जो साम्प्रदायिक सौहार्द का संदेश भी दे रहे हैं। मुस्लिम समुदाय द्वारा हिण्डऩ विहार मेरठ रोड पर कांवड़ यात्रियों की प्रेमभाव के साथ समाज में हिन्दू मुस्लिम सौहार्द बढाने और दोनो समुदाय में प्रेम भावना बढाने की नियत से सेवा कैम्प का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें अख़लाक सैफी, फरहान सैफी, जुनैद जैसे युवा लगातार कांवडिय़ों को सेवाएं दे रहे हैं। अखलाक सैफी का कहना है कि ये काम आगे भविष्य में भी करते रहेंगे। क्योकि इस काम से हम समाज को जोडऩे का व आपसी भाईचारा कायम करने का प्रयास कर रहें हैं। वहीं मेरठ रोड स्थित डीपीएस स्कूल के पास सिहानी गांव के लोगों द्वारा भी ऐसे ही एक शिविर का आयोजन किया जा रहा है। राजा सैफी, प्रदीप त्यागी, धीरेन्द्र त्यागी और सुरेन्द्र त्यागी द्वारा 23 तारीख से इस शिविर का संचालन हो रहा है। राजा सैफी ने बताया कि बीते 10 सालों से लगातार श्रावण माह में शिविर का संचालन हो रहा है। जिसमें हर वक्त 50 से 60 सेवादार कांवडिय़ों की सेवा में तैनात रहते हैं। शिविर में शिवभक्तों के लिए सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध हैं। 

कारोबारी नेताओं ने किया शिविर का आयोजन 
अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के जिला अध्यक्ष संदीप बंसल ने सोमवार को 2 दिवसीय भंडारा शिविर का शुभारंभ कांवड़ यात्रियों के लिए किया। इसके अलावा एमएमजी अस्पताल के सामने राष्ट्रीय व्यापार मंडल द्वारा संचालित कांवड़ शिविर में सेवा हेतु महापौर आशा शर्मा, बीजेपी महानगर अध्यक्ष संजीव शर्मा, महामंत्री पप्पू पहलवान, सचिन सोनी आदि पदाधिकारियों ने कांवड़ शिविर में पहुंचकर कावडियो की सेवा में भाग लिया। इस अवसर पर मुख्य रूप से राकेश शर्मा, अशोक भारतीय, कपिल गर्ग, प्रदीप चौधरी, मनोज गुप्ता, डॉ ओपी अग्रवाल, अनिल जुल्का, अंकुर गोयल, शुभम गर्ग उपस्थित रहे। 
 
कॉलेज प्रबंधन ने कांवडिय़ों पर की पुष्प वर्षा
जल लेकर अपने गंतव्यों की ओर वापस लौट रहे कांवडिय़ों पर आरडी इंजीनियरिंग कॉलेज के अध्यापक व अध्यापिकाओं ने पुष्पवर्षा कर उनका स्वागत किया और हर हर महादेव के नारे भी लगाए। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.