Thursday, Jun 17, 2021
-->
within 3 months delhi govt may vaccinated to all delhi people kmbsnt

दिल्ली में तीन महीने के अंदर सभी को लगाई जा सकती है कोरोना वैक्सीन

  • Updated on 5/6/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना के महासंकट के बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दावा किया है कि अगर वैक्सीन आपूर्ति ठीक से हो जाए तो 3 महीने के अंदर पूरी दिल्ली को वैक्सीन लगा सकते हैं। केजरीवाल ने बुधवार को राजेंद्र नगर में स्थित 18 प्लस वालों के लिए राधा स्वामी सत्संग ब्यास में बने बड़े टीकाकरण केंद्र का दौरा किया।

इस मौके पर उन्होंने कहा कि हमें वैक्सीन की आपूर्ति बहुत बड़े स्तर पर चाहिए। अभी बहुत कम वैक्सीन दिल्ली को मिली है। अब हमने बुनियादी ढांचा स्थापित कर लिया है। हम चाहें तो इसे 24 घंटे में बढ़ा सकते हैं, लेकिन वैक्सीन की कमी है। हम चाहते हैं कि पूरी दिल्ली को 3 महीने में वैक्सीन लगा दें। 

केजरीवाल सरकार ने CBSE से 10वीं क्लास के रिजल्ट तैयार करने के लिए और वक्त मांगा 

वैक्सीन की आपूर्ति सही होने पर 3 महीने के अंदर कर सकते हैं लक्ष्य हासिल
सीएम केजरीवाल ने कहा कि यह लक्ष्य हासिल करना संभव है, लेकिन अब केवल एक ही अड़चन रह गई है कि वैक्सीन की आपूर्ति ठीक हो जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि वैक्सीन लगवाने के लिए बड़ी संख्या में युवा आगे आ रहे हैं। दिल्ली में वैक्सीनेशन अभियान सफलतापूर्वक शुरू हो चुका है, लेकिन अभी और अधिक वैक्सीन आपूर्ति की जरूरत है।

दिल्ली में अच्छे से शुरू हुआ वैक्सीनेशन का काम- केजरीवाल
सीएम ने कहा कि अगर वैक्सीन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराई जाती है, तो हम 3 महीने में पूरी दिल्ली को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य प्राप्त कर सकते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में प्राइवेट और सरकारी दोनों सेक्टर में वैक्सीनेशन का कार्य बहुत अच्छे से शुरू हो गया है। 

ऑक्सीजन आवंटन के हिसाब से क्रायोजेनिक टैंकर भी दे केंद्र सरकार- AAP

दिल्ली में 24 घंटे में 311 कोविड मरीजों की मौत
बता दें कि दिल्ली में कोरोना का कहर लगातार जारी है। 13 दिनों से लगातार कोरोना से 300 से ज्यादा लोगों की मौत हो रही है। पिछले 24 घंटों में 311 कोरोना मरीजों की मौत हो गई और 20 हजार 960 नए मामले सामने आए हैं। इससे पहले मंगलवार को एक दिन में 338 कोरोना मरीजों की मौत हो गई थी और 19 हजार 953 नए मामले सामने आए थे।

राहत की बात यह है कि संक्रमण दर में कमी आई है, जो घटकर 26.37 फीसदी पर आ गई है, जबकि 22 अप्रैल को कोरोना संक्रमण दर 36.24 फीसदी पर पहुंच गई थी, लेकिन पिछले दिनों 2 दिनों से सक्रिय मरीजों की तुलना में स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या कम होने से सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर करीब 92000 हो गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.