Friday, Jan 18, 2019

सीतारमण के खिलाफ टिप्पणी करने पर राहुल गांधी को महिला आयोग का नोटिस

  • Updated on 1/10/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राष्ट्रीय महिला आयोग ने रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के खिलाफ जयपुर में एक रैली के दौरान‘‘अति महिला द्वेषी, आक्रामक एवं अनैतिक’’ टिप्पणी करने पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को बृहस्पतिवार को एक नोटिस जारी किया। नोटिस में महिला आयोग ने कहा कि उसने नौ जनवरी को विभिन्न प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया में आयी एक खबर का स्वत: संज्ञान लिया है। इसमें ‘‘यह खबर दी गयी है कि आपने एक महिला मंत्री के विरूद्ध कथित तौर पर टिप्पणी की है’’

आलोक वर्मा को CBI से हटाने के फैसले से खुश नहीं हैं मल्लिकार्जुन खड़गे

 

पीएम मोदी की चहेती आयुष्मान भारत योजना से अलग हुई ममता सरकार

आयोग की प्रमुख रेखा शर्मा ने ट््वीट कर कहा, ‘‘राहुल गांधी का उनके इस महिला द्वेषी बयान से क्या तात्पर्य है..‘एक महिला से कहा मेरी रक्षा कीजिए? क्या वह समझते हैं कि महिला दुर्बल होती हैं। विडंबना है कि विशालतम लोकतंत्र की निपुण रक्षा मंत्री को एक दुर्बल व्यक्ति कहा जा रहा है।... ’’ दरअसल, कांग्रेस अध्यक्ष ने राजस्थान में बुधवार को एक रैली में राफेल मामले का हवाला देते हुए कहा था, ‘‘56 इंच का सीना रखने वाला चौकीदार भाग गया और एक महिला सीतारमण जी से कहा कि मेरा बचाव कीजिए। मैं अपना बचाव नहीं कर सकता, मेरा बचाव कीजिए।’’ 

CBI बनाम सीबीआई : अस्थाना की याचिका को लेकर कोर्ट के फैसले पर सबकी नजरें

नोटिस में आयोग ने कहा, ‘‘ऐसी खबर आयी है कि आपने कथित तौर पर कहा...प्रधानमंत्री भाग गया और एक महिला से उन्हें बचाने को कहा। इसमें परोक्ष रूप से रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण का उल्लेख किया गया।’’ आयोग ने कहा, ‘‘यह टिप्पणी अति महिला द्वेषी, आक्रामक और अनैतिक है तथा यह आम तौर महिलाओं की गरिमा और सम्मान के प्रति बेहद असम्मान व्यक्त करती है।’’ 

AAP ने शीला दीक्षित की वापसी पर किया कांग्रेस पर कटाक्ष

दिल्ली महिला आयोग की प्रमुख स्वाति मालीवाल ने भी राहुल की टिप्पणी की भत्र्सना की। उन्होंने सोशल मीडिया पर डाली एक पोस्ट में कहा, ‘‘राफेल घोटाले की व्यापक जांच होनी चाहिए किंतु इस बारे में राहुल गांधी का बयान प्रतिगामी और महिला द्वेषी है। मैं यह नहीं समझ पाती हूं कि पुरूष यह क्यों भूल जाते हैं कि महिलाएं उनसे अधिक बलवान होती हैं। क्या वे अपने गर्भ में नौ महीने तक बच्चे को पाल सकते हैं और उसे जन्म दे सकते हैं?’’  

आलोक वर्मा को हटाने पर कांग्रेस बोली- जांच से डरे हुए हैं पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गांधी के इस बयान को सभी महिलाओं का अपमान करार दिया है। प्रधानमंत्री की तीखी आलोचना पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए गांधी ने एक ट््वीट कर कहा, ‘‘मोदीजी के प्रति पूरे सम्मान के साथ, हमारी संस्कृति में महिलाओं का सम्मान घर से प्रारंभ होता है।’’ 

PM के नेतृत्व वाली सेलेक्ट कमेटी ने की वर्मा की छुट्टी, नागेश्वर होंगे अंतरिम CBI चीफ

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.