Wednesday, Jun 26, 2019

रात को रोशनी में सोने वाली महिलाओं को हो सकता है मोटापा बढऩे का खतरा

  • Updated on 6/11/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। अगर आप रात को सोते समय टेलीविजन चलता हुआ छोड़ देते हैं या फिर लाइट जलाकर सो जाते हैं तो यह आपकी फिटनेस के लिए खतरा हो सकता है। एक अध्ययन में पता चला है कि रात को कृत्रिम रोशनी में सोने वाली महिलाओं में मोटापा बढऩे का खतरा हो सकता है। यह शोध पत्रिका जेएएमए इंटरनल मेडिसिन में प्रकाशित हुआ है। इसमें रात को सोते समय कृत्रिम रोशनी और महिलाओं का वजन बढऩे के बीच संबंध का पता लगाया गया है।

हाथों और पैरों में पड़ने वाले गढ्ढो से मिलेगा छुटकारा, इन घरेलू उपायों का शुरू कर दें इस्तेमाल

शोध के नतीजों से निष्कर्ष निकला कि सोते समय लाइट बंद करने से महिलाओं के मोटे होने की संभावना कम हो सकती है। अमेरिका के राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान (National Institutes of Health) ने सिस्टर स्टडी में 43,722 महिलाओं के प्रश्नावली डेटा का इस्तेमाल किया जिसमें स्तन कैंसर (Breast Cancer) और अन्य बीमारियों के लिए खतरे वाली चीजों का अध्ययन किया गया। प्रश्नावली में यह पूछा गया कि क्या महिलाएं बिना किसी रोशनी, हल्की-सी रोशनी, कमरे के बाहर से आ रही रोशन या कमरे में टेलीविजन की रोशनी में सोती हैं।

मुंह के छालों से न हो परेशान चुटकियों में होगा इसका इलाज, ये है घरेलू नुस्खें

इस सूचना का इस्तेमाल कर वैज्ञानिक मोटापे और रात में कृत्रिम रोशनी में सोने वाली महिलाओं के वजन बढऩे के बीच संबंध का अध्ययन कर पाए। इसमें पाया गया कि रात में हल्की-सी रोशनी में सोने से वजन नहीं बढ़ता जबकि जो महिला रोशनी या टेलीविजन की रोशनी में सोती हैं उनका पांच किलोग्राम वजन बढऩे की संभावना 17 फीसदी होती हैं। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.