Tuesday, Jun 22, 2021
-->
world-needs-to-learn-from-south-korea-to-fight-the-corona-virus-prsgnt

कोरोना वायरस से लड़ने के लिए दुनिया को दक्षिण कोरिया से सीखना होगा

  • Updated on 3/29/2020

नई दिल्ली/प्रियंका। कोरोना वायरस से दक्षिण कोरिया की लड़ाई काबिलेतारीफ है। एक 5 करोड़ आबादी वाले देश ने कैसे इसे हराया ये जानना बेहद जरुरी है। ताजा आंकड़ों के अनुसार, दक्षिण कोरिया में 8,413 मामले सामने आए हैं और 84 लोगों की मौत हुई है। जबकि 1540 लोग ठीक हो चुके हैं।

दक्षिण कोरिया का जिक्र इसलिए भी जरुरी है क्योंकि कोरोना वायरस से लड़ बाकी देशों की तरह इस देश ने लॉकडाउन कर अपनी चलती ज़िंदगी को रोका नहीं है। आइए जानते हैं आखिर दक्षिण कोरिया ने यह सब कैसे किया?

Coronavirus: फारुख अब्दुल्ला ने श्रीनगर के 3 अस्पतालों को दिए 1.5 करोड़ रुपये

पहले से की तैयारी
चीन में कोरोना के फैलते ही दक्षिण कोरिया की चार प्राइवेट कंपनियों ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के तय किये गए पैमाने पर टेस्ट किट का निर्माण शुरू कर दिया। यानी दक्षिण कोरिया के पास पूरी क्षमता है कि वो हर सप्ताह तकरीबन एक लाख चालीस हजार टेस्ट कर सके। यह टेस्ट किट एक दिन में 10,000 सैंपल की जांच करने के लिए काफी थी। जिसकी क्षमता बढ़ कर एक दिन में 20000 सैंपल हो गई है। ये आँकड़ा दुनिया के किसी भी दूसरे देश से कहीं अधिक है।

कोरोना से न्यूजीलैंड में पहली मौत, संक्रमण के कुल 514 मामले

बड़े देशों से ज्यादा सतर्क
वहीँ, मीडिया में छपी जानकारियों के अनुसार, दक्षिण कोरिया में अभी तक 2,70,000 से अधिक लोगों के सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं। दस लाख की आबादी पर 5200 सैंपल टेस्ट किए गए हैं। इसके बाद दक्षिण कोरिया ने ज़्यादा से ज़्यादा लोगों की जांच की। इसके लिए दक्षिण कोरिया ने 50 ड्राइव थ्रू टेस्ट स्टेशन बनाए। जहां लोग अपनी गाड़ियों में बैठ कर आते थे और टेस्ट करा कर कुछ ही घंटों में रिजल्ट ले जाते थे। इस पूरी प्रक्रिया में दस मिनट लगते हैं। इतना ही नहीं, दक्षिण कोरिया ने कोरोना टेस्ट के लिए 96 पब्लिक और प्राइवेट लैब का निर्माण किया है।

पलायन करते मजदूरों को कोरोना का नहीं लॉकडाउन का सता रहा है डर, पढ़ें खास रिपोर्ट

पॉजिटिव लोगों की जानकारी ऑनलाइन
दक्षिण कोरिया ने सबसे अच्छा ये किया कि सभी पोज़िटिव लोगों की जानकारी ऑनलाइन रजिस्टर्ड की गई। ताकि दूसरे लोग भी यह जान सकें कि क्या कभी वो उस व्यक्ति के संपर्क में आए थे या नहीं, अगर हां तो वो अपनी तुरंत जांच करा सकें। इतना ही नहीं दक्षिण कोरिया की हाउसिंग सोसाइटी ने लोगों को बिना मुंह ढके/मास्क के बाहर निकलने पर विशेष रोक लगा दी। इसके साथ ही, हर लिफ़्ट में हैंड-सेनेटाइजर की व्यवस्था की गई है। जगह-जगह लोगों को खड़ा किया है जो आते-जाते लोगों को याद दिलाते रहते हैं कि उन्हें हाथ धोने हैं।

CoronaVirus से इटली में हालात बेकाबू, अब तक 10,000 से ज्यादा मरे

कड़े कानून का पालन
दक्षिण कोरिया ने लोगों के लिए इस व्यवस्था को बनाए रखने के लिए कड़े कानून का पालन करने के लिए भी खास सिस्टम तैयार किया। संक्रमित लोगों का पता लगाने पर उसे तुरंत अलग-थलग यानी क्वारेंटिन ज्वाइन करने को कहा गया। इसके साथ ही इस दौरान मेडिकल टीम ये चैक करती किया जा रहा है उसे मेडिकल टीम दिन में दो बार फोन करती है। चेक करती रहती है कि कहीं वो बाहर तो नहीं निकला। अगर वो ऐसा करता है तो उसे कानून तोड़ने पर 3 लाख वॉन का जुर्माना देना पड़ता था। यानी भारतीय रूपये के हिसाब से 18,600.57 रूपये का जुर्माना।

स्पेन के शाही परिवार में Coronavirus से हुई मौत, देश में अबतक 5,982 मौतें

लॉकडाउन सही नहीं
वहीँ, पूरे देश को बंद करने या लॉकडाउन करने को लेकर दक्षिण कोरिया अलग ही मानना है। दक्षिण कोरिया के अनुसार, पूरे देश को बंद करना गलत है, या यूं कहें कि बंद करना कभी काम नहीं करता। इसके बजाय ज्यादा से ज्यादा लोगों की जांच होनी चाहिए। लोगों को खोज-खोज कर टेस्ट करना चाहिए, उन पर नजर रखी जानी चाहिए और इनका डेटा सबके साथ बांटना चाहिए। ताकि लोग सावधानी बरत सकें। हालांकि दक्षिण कोरिया ने एहतियातन स्कूल, कॉलेज, ऑफिस आदि बंद किए हैं।

यहां पढ़ें कोरोना के जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें 

क्या है कोरोना वायरस? जानें, बीमारी के कारण, लक्षण व समाधान

Corona Virus: भारत में जल्द बिगड़ेंगे कोरोना से हालात अगर ये बात नहीं मानी तो...

coronavirus: 5 दिन में दिखे ये लक्षण तो जरूर कराएं जांच 

यदि आपका है यह Blood Group तो जल्द हो सकते हैं कोरोना वायरस के शिकार 

मिल गया कोरोना का इलाज! इस विटामिन की डोज से ठीक हो रहे हैं कोरोना के मरीज

अपने शहर की प्राइवेट लैब पर ऐसे करा सकते हैं आप कोरोना संक्रमण की जांच, इतनी होगी फीस

कोरोना वायरस : मास्क के इस्तेमाल में भी बरतें सावधानियां, ऐसे करें यूज 

कोरोना वायरस से जुड़े ये हैं कुछ खास मिथक और उनके जवाब 

भारत में लॉकडाउन के बाद भी कोरोना वायरस के फैलने का खतरा बढ़ा, पढ़े खास रिपोर्ट

लॉक डाऊन है तो फिक्र क्या, बैंक कराएंगे आपके पैसे की होम डिलीवरी

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.