Monday, May 23, 2022
-->
Yashwant Sinha dig at Modi BJP govt decisions on pretext of Muhammad bin Tughluq rkdsnt

यशवंत सिन्हा ने मुहम्मद बिन तुगलक के बहाने मोदी सरकार के फैसलों पर किया कटाक्ष

  • Updated on 5/10/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। भाजपा के पूर्व नेता व पूर्व वित्तमंत्री यशवंत सिन्हा ने केंद्र की मोदी सरकार की नीतियों और उसके फैसलों पर सवाल उठाते रहे हैं। आर्थिक नीतियों को लेकर पूर्व वित्तमंत्री दिवंगत अरुण जेटली से उनकी नहीं बनती थी। नोटबंदी से लेकर राफेल सौदे तक पर यशवंत सिन्हा सवाल उठाते रहे हैं। कोरोना संकट में जिस तरह केंद्र ने लॉकडाउन के तीन चरण लागू किए हैं, उससे भी वह संतुष्ट नहीं हैं। मजदूरों को मद्दे पर भी सिन्हा शुरू से ही स्पेशल ट्रेन चलाने के पक्ष में थे।

कांग्रेस ने Video जारी कर PM मोदी से पूछा- लॉकडाउन 3.0 के बाद देश को संबोधित करेंगे या...

लॉकडाउन 3.0 : 17 मई के बाद कौन सा रास्ता अपनाएगी मोदी सरकार, बहस शुरू

लेकिन, अब यशवंत सिन्हा को केंद्र की मोदी सरकार के फैसलों में दिल्ली सलतनत के बादशाह मुहम्मद बिन तुगलक के फरमानों की झलक नजर आने लगी है। अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा है, 'मोहम्मद बिन तुगलक ने मुद्रा की नोटबंदी की थी। उसने भी डक्कन में लोगों को दिल्ली से दौलताबाद जाने को मजबूर कर दिया था, जिसमें अपंग भी शामिल थे। बहुत से लोग रास्ते में ही मर गए थे। क्या आपको इसमें कोई समानता नजर आती है?

कोरोना संक्रमण : नितिन गडकरी को पसंद आया केरल मॉडल, लेकिन गुजरात...

LNJP अस्पताल के मेडिकल डायरेक्टर को पद से मुक्त करने के दिए निर्देश

बता दें कि सिन्हा लॉकडाउन में मजदूरों की बेकद्री को लेकर बेहद आहत हैं। वह समय-समय पर इस मद्दे पर आवाज उठाते रहे हैं। लॉकडाउन में बस और ट्रेन्स चलने के बावजूद मजदूर पैदल चलने को मजबूर हैं। महाराष्ट्र में तो रेल हादसे में 15 मजदूरों की मौत हो गई। सिन्हा भाजपा और आरएसएस पर सांप्रदायिकता फैलाने का भी आरोप लगा चुके हैं।

कन्हैया कुमार ने लॉकडाउन के सताए मजदूरों का दर्द कुछ इस तरह किया बयान

महुआ मोइत्रा बोलीं- सुप्रीम कोर्ट घरों में शराब सप्लाई पर सुनवाई करेगी, लेकिन प्रवासी....

सिन्हा इससे पहले केंद्र की मोदी सरकार की नीतियों पर सवाल उठाने हुए अपने एक ट्वीट में लिखा था, 'दिन के समान साफ हो गया है कि भाजपा का एक ही एजेंडा है सांप्रदायिक जज्बातों को में आग लगाना। झारखंड में फल और सब्जियों को या तो हिंदू बना दिया गया है या मुस्लिम। बंगालमें तुच्छ राजनीति के लिए मुस्लिम समुदाय को नीचा दिखाना भी इसमें शामिल है। '

AAP महिला नेता ने @pokershash के खिलाफ दर्ज कराई FIR, प्रशांत भूषण का मिला साथ

comments

.
.
.
.
.