Wednesday, Sep 23, 2020

Live Updates: Unlock 4- Day 23

Last Updated: Wed Sep 23 2020 09:55 PM

corona virus

Total Cases

5,688,530

Recovered

4,624,973

Deaths

90,443

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA1,242,770
  • ANDHRA PRADESH646,530
  • TAMIL NADU552,674
  • KARNATAKA540,847
  • UTTAR PRADESH369,686
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • NEW DELHI253,075
  • WEST BENGAL234,673
  • ODISHA192,548
  • BIHAR180,788
  • TELANGANA174,774
  • ASSAM161,393
  • KERALA131,027
  • GUJARAT127,541
  • RAJASTHAN120,739
  • HARYANA116,856
  • MADHYA PRADESH110,711
  • PUNJAB97,689
  • CHANDIGARH70,777
  • JHARKHAND69,860
  • JAMMU & KASHMIR62,533
  • CHHATTISGARH52,932
  • UTTARAKHAND27,211
  • GOA26,783
  • TRIPURA21,504
  • PUDUCHERRY18,536
  • HIMACHAL PRADESH9,229
  • MANIPUR7,470
  • NAGALAND4,636
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS3,426
  • MEGHALAYA3,296
  • LADAKH3,177
  • DADRA AND NAGAR HAVELI2,658
  • SIKKIM1,989
  • DAMAN AND DIU1,381
  • MIZORAM1,333
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
yashwant sinha says pread of covid in gujarat can be traced to trump event in ahmadabad rkdsnt

गुजरात में कोरोना फैलने का सीधा संबंध अहमदाबाद में ट्रंप के इवेंट से है: यशवंत सिन्हा

  • Updated on 5/26/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना संक्रमण के बीच भाजपा के पूर्व नेता यशवंत सिन्हा के हमले केंद्र की मोदी सरकार पर कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं। आर्थिक नीतियों से लेकर कोरोना संकट को लेकर सिन्हा ने मोदी सरकार को आड़े हाथ लिया है। उन्होंने कहा है कि गुजरात में कोरोना फैलने का सीधा संबंध अहमदाबाद में ट्रंप के इवेंट में देखा जा सकता है। सिन्हा का मानना है कि इस बड़े आयोजन में दुनियाभर से एनआरआई ने भाग लिया था।

कोरोना के बहाने महाराष्ट्र की सियासत गर्म, राणे के बाद फडणवीस भी हुए सक्रिय

प्रवासी मजदूरों के मुद्दे पर अब सुप्रीम कोर्ट ने भी जताई चिंता, भेजा नोटिस

बकौल यशवंत सिन्हा, 'गुजरात में कोरोना का फैलाव सीधे तौर पर अहमदाबाद में ट्रंप के इवेंट में खोजा जा सकता है, जहां दुनियाभर से बड़ी तादाद में एनआरआई जुटे थे। होम क्वारेंटीन का यहां घोर उल्लंघन हुआ। मीडिया इस पक्ष को नजरअंदाज कर रहा है।' बता दें कि जब दुनिया में कोरोना वायरस फैल रहा था, इस दौरान ट्रंप के भारत दौरे के दौरान अहमदाबाद में बड़ा आयोजन हुआ था, जिसमें एक लाख लोग जुटे थे।

राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर चलाए सियासी तीर, ये हैं प्रेस वार्ता के खास बिंदु

इससे पहले सिन्हा ने कहा था कि यह सरकार कोई भी संकट मैनेज नहीं कर सकती है, लेकिन दूसरों पर दोषारोपण करने का दुस्साहस जरुर दिखाती है। सिन्हा का मानना है कि कोरोना संकट में रेलवे के बाद नागरिक उड्डन ने भी सरकार की अक्षमता को साबित कर दिया है।

कांग्रेस नेता अलका लांबा बोलीं- FIR से नहीं डरती बेटियाँ साहेब, लेकिन...

CM योगी के दावे पर प्रियंका के बाद अखिलेश भी बोले-कुछ तो है जिसकी पर्दादारी है!

सिन्हा का यह भी कहना है कि पोस्ट कोरोना काल में सरकार को समानता, धर्मनिरपेक्षता और लोकतांत्रिक सिद्धांतों को स्थापित करना चाहिए। इसके साथ ही जनता को सरकार को जिम्मेदार बनाने के लिए लगातार व्यवस्थाओं पर सवाल करने होंगे। इसके साथ भी देशों के यह भी समझना चाहिए कि विश्व बड़े संकट से गुजर रहा है। लोकतंत्र में तो खास तौर पर सरकार की जिम्मेदारी बढ़ जाती है। जनहित यहां सबसे अहम हो जाता है। 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.