Sunday, Dec 04, 2022
-->
yes bank case enforcement directorate anil ambani ed summons anil amban

Yes Bank Crisis: ED के लपेटे में अनिल अंबानी, पेशी के लिए समन जारी

  • Updated on 3/16/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। यस बैंक (Yes Bank) मामले में चल रहे जांच के दौरान प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने अनिल अंबानी (Anil Ambani ) को समन जारी किया है। ईडी ने समन जारी कर रिलायंस ग्रुप (Reliance Group) के चेयरमैन अनिल अंबानी को पेश होने का निर्देश दिया है। ईडी ने उन्हें 16 मार्च को पेश होने के लिए समन भेजा है। लेकिन ईडी ने बताया कि वे आज पेश नहीं होंगे। प्रवर्तन निदेशालय ने यस बैंक फाउंडर और पूर्व सीईओ राणा कपूर के साथ अनिल अंबानी के संबंधों को लेकर पूछताछ के लिए उन्हें आज बुलाया था। 

पैसे-पैसे को तरसे विदेशों में फंसे येस बैंक के 40,000 कस्टमर्स 

आपराधिक षड्यंत्र, धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार के आरोप में प्राथमिकी दर्ज
बता दें कि सीबीआई ने राणा कपूर, DHFL, DOIT, अर्बन वेंचर्स कंपनी और DHFL के प्रवर्तक निदेशक कपिल वधावन के खिलाफ आपराधिक षड्यंत्र, धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की है। ईडी ने कपूर (62) को PMLA के तहत रविवार तड़के करीब गिरफ्तार किया और अदालत ने उन्हें 11 मार्च तक ED की हिरासत में भेज दिया।

CBI ने मामला दर्ज किया, ED से गिरफ्तार हिरासत में
सीबीआई ने आरोप लगाया कि कपूर ने येस बैंक के जरिए DHFL को वित्तीय सहायता देने के लिए वधावन के साथ मिलकर आपराधिक साजिश रची। इसके बदले में अपने लिए और अपने परिवार के सदस्यों के लिए उनकी कंपनियों के मार्फत अनुचित लाभ लेने की कोशिश की। CBI की प्राथमिकी के अनुसार घोटाला अप्रैल से जून 2018 के बीच शुरू हुआ था जब यस बैंक ने घोटालाग्रस्त दीवान हाउसिंग वित्त निगम लिमिटेड के अल्पावधि ऋणपत्र में 3700 करोड़ रुपये का निवेश किया था।

इसके बदले में वधावन ने DOIT अर्बन वेंचर्स (इंडिया) प्राइवेट लिमिटेड को ऋण के रूप में कपूर और परिवार के सदस्यों को कथित तौर पर ‘600 करोड़ रुपये की रिश्वत’ का भुगतान किया था। इससे पहले सूत्रों ने बताया था कि CBI ने येस बैंक के मामलों की जांच शुरू कर दी है और अधिकारी दस्तावेज इकट्ठा कर रहे हैं। येस बैंक पर रिजर्व बैंक की नियामकीय कार्रवाई के बाद प्रवर्तन निदेशालय ने राणा कपूर को मनी लांडरिंग के आरोपों की जांच के सिलसिले में गिरफ्तार कर लिया है।

YES बैंक घोटाले में CBI ने सात आरोपियों के खिलाफ जारी किया लुक आउट सर्कुलर नोटिस

आरबीआई ने कहा, लोगों का पैसा सुरक्षित
येस बैंक संकट के बाद लोगों के बीच फैल रही विभिन्न भ्रांतियों पर रिजर्व बैंक ने रविवार को फिर से कहा कि खाताधारकों का पैसा सुरक्षित है और वह सभी बैंकों पर करीब से नजर रख रहा है। रिजर्व बैंक ने कहा कि बैंक खातों में जमा धन की सुरक्षा को लेकर फैल रही चिंताएं और भ्रांतियां दोषपूर्ण विश्लेषणों पर आधारित हैं। केंद्रीय बैंक ने ट्वीट किया, ‘खाताधारकों की कुछ बैंकों में जमा राशि की सुरक्षा लेकर मीडिया के कुछ हलकों में चिताएं जताई गई हैं। यह सारी चिंताएं दोषपूर्ण विश्लेषणों पर आधारित हैं।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बैंकों की देनदारी निपटाने की क्षमता जांचने का आधार उनका बाजार पूंजीकरण नहीं बल्कि भारी जोखिम पर तुली संपत्तियों की तुलना में उनकी पूंजी का आधार होता है।’ रिजर्व बैंक ने कहा, ‘रिजर्व बैंक सभी बैंकों की निगरानी करता है और इसलिए सभी खाताधारकों को आश्वस्त करता है कि उनके किसी भी बैंक में जमा धन की सुरक्षा को लेकर कोई चिंता नहीं है।’
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.