Tuesday, Apr 13, 2021
-->
yogendra yadav swaraj india say bjp economic package left farmers empty handed again rkdsnt

आर्थिक पैकेज : योगेंद्र यादव ने की मोदी सरकार के एक फैसले की तारीफ, किसान मुद्दे पर खफा

  • Updated on 5/14/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कोरोना संकट को देखते हुए केंद्र की मोदी सरकार ने 20 लाख करोड़ के आर्थिक पैकेज के ऐलान पर केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपनी दूसरी प्रेस वार्ता में गरीबों और मजदूरों को लेकर कई बड़े खुलासे किए। कई योजनाओं का जिक्र किया और एक देश और एक राशन कार्ड बनाने की भी बात कही। लेकिन, स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेंद्र यादव को लगता है कि दूसरे पैकेज में भी सरकार ने किसानों को छला है। उनकी पूरे तरीके अनदेखी कर दी गई है। 

आर्थिक पैकेज को लेकर सीतारमण की दूसरी प्रेस वार्ता के ये हैं 10 खास बिंदु

ब्रिटेन : हाईकोर्ट ने दिया भगोड़े विजय माल्या को करारा झटका, प्रत्यर्पण का रास्ता साफ

अपने ट्वीट में योगेंद्र लिखते हैं, ''फिर से किसानों को दूसरे पैकेज में भी खाली हाथ छोड़ दिया गया:- लॉकडाउन में सब्जी, फल, दूध, पशुधन का जो नुकसान हुआ उसके लिए कोई हर्जाना नहीं, कीमत में गिरावट और एमएसपी पर को गौर नहीं, डिजल कीमतों पर कोई रियायत नहीं, उर्वरकों और बीजों पर कोई सब्सिडी नहीं। सिर्फ और ज्यादा लोन।"

सीतारमण की PC के बाद अनुराग कश्यप ने पूछा- उधार और Relief-Package में क्या फर्क है ?

कांग्रेस बोली-केंद्र के आर्थिक पैकेज में है ₹3,70,000 करोड़ का सिर्फ लोन पैकेज

अपने दूसरे ट्वीट में वह लिखते हैं, 'प्रेस कांफ्रेंस के बीच में वित्तमंत्री ने 6-18 लाख रुपये सालाना कामने वाले लोगों का जिक्र किया। कहती हैं कि वे गरीबी रेखा से कुछ ऊपर हैं!! क्या भारत की वित्तमंत्री जानती हैं कि देश की गरीबी रेखा क्या है?(करीब 60 हजार सालाना)'

AAP सांसद बोले- आर्थिक पैकेज से एक बात तो साफ हो गई कि...

आर्थिक पैकेज पर सीतारमण की पहली प्रेस वार्ता पर चिदंबरम की कुछ ऐसी है प्रतिक्रिया

सरकार के एक फैसले का स्वागत भी योगेंद्र यादव ने किया है, वह लिखते हैं, 'आखिरकार, 50 दिनों से लगातार गुहार लगाने के बाद सरकार ने स्वीकार किया कि 8 करोड़ प्रवासियों के पास राशन कार्ड नहीं है, उन्हें यह सुविधा दी जाएगी। स्वागत योग्य फैसला है। लेकिन, पूछना चाहूंगा कि इस फैसले को लेने से कौन रोक रहा था। इस दौरान भूख और पीड़ा की जिम्मेदारी कौन लेगा?'

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.