yogi-adityanath-decided-to-take-action-againts-private-school-arbitrarily-fees

अब मनमानी फीस नहीं बढ़ा पाएंगे प्राइवेट स्कूल, CM योगी ने इस विधेयक को दी मंजूरी

  • Updated on 4/4/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश में निजी स्कूलों द्वारा मनमानी कर स्कूल फीस बढ़ाने पर अब योगी सरकार लगाम लगाने वाली है। मंगलवार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की मीटिंग में  स्ववित्तपोषित स्वत्रंत विद्यालय विधेयक के मसौदे को मंजूरी मिल गई है। इस विधेयक के अमुसार अधिकतम फीस पांच से सात फीसदी ही बढ़ सकेगी। साथ ही इस अध्यादेश को इसी सत्र से लागू कर दिया जाएगा। 

सालों पहले SC-ST एक्ट में बदलाव करने वाली मायावती आज कर रही विरोध

राज्यपाल से मंजूरी के बाद अगले हफ्ते से इसे लागू कर दिया जाएगा। बता दें कि ये विधेयक 20 हजार रुपए से ज्यादा फीस लेने वालों पर लागू किया जाएगा।  फीस लागू करने का आधार वर्ष 2015-16 माना जाएगा। साथ ही ये विधेयक, यूपी, सीबीएसई, आईसीएसई बोर्ट के स्कूलों में लागू होगा। इतना ही नहीं इसे अल्पसंख्यक स्कूलों पर भी लागू किया जाएगा।  

यदि इसके बाद भी कोई स्कूल ज्यादा फीस लेता है तो पहली बार शिकायत करने पर  स्कूल पर 1 लाख, दूसरी बार पर 5 लाख रुपये का जुर्माना और तीसरी बार शिकायत मिलने पर स्कूल की मान्यता खत्म करने की सिफारिश की जाएगी साथ ही 15 फीसदी विकास शुल्क के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगाया जाएगा। साथ ही अगर ये मामला मंडल के स्तर पर नहीं सुलझा तो इसे राज्य स्तर पर कमेटी बनने तक प्राविधिक शिक्षा में बनी कमेटी में सुलझाया जाएगा।    

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.