Wednesday, Mar 03, 2021
-->
yogi adityanath in assembly dalits have been the biggest opponents of the underprivileged

विधानसभा में विपक्ष के हंगामे के बीच योगी बोले- दलितों, वंचितों के सबसे बड़े विरोधी रहे हैं ‘सबका’

  • Updated on 12/31/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने 'सपा-बसपा-कांग्रेस' को संक्षिप्त नाम 'सबका' देते हुए मंगलवार को आरोप लगाया कि तीनों ही दल दलितों और वंचितों के सबसे बड़े विरोधी रहे हैं। योगी (CM Yogi) ने विधानसभा के विशेष सत्र में लोकसभा (Lok Sabha) और राज्य विधानसभाओं में अनुसूचित जाति (SC) और अनुसूचित जनजातियों (ST) के आरक्षण की अवधि को 10 साल के लिए और बढ़ाने के संविधान संशोधन विधेयक 2019 पर चर्चा का जवाब देते हुए कहा, "सबका :सपा-बसपा-कांग्रेस: दलितों और वंचितों के सबसे बड़े विरोधी रहे हैं।"

साध्वी निरंजन ज्योति ने प्रियंका को दी नसीहत- सरनेम से गांधी हटाकर फिरोज लगाएं

दलितों, वंचितों के सबसे बड़े विरोधी रहे हैं‘सबका’
उन्होंने कहा कि भाजपा (BJP) ने दलितों और वंचितों को वोट बैंक नहीं बनाया बल्कि शासन की योजनाएं सब तक पहुंचाईं। योगी ने कहा, "हमने नारों को हकीकत में बदलने का कार्य किया है। केंद्र में 26 मई 2014 को जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के नेतृत्व में सरकार बनी तो उसने किसी व्यक्ति, जाति, मत, मजहब या क्षेत्र के लिए नहीं बल्कि भारत के लिए कार्य किया। तब मोदी ने कहा था कि हमारी सरकार दलितों, वंचितों, आदिवासियों, पिछडों, वनवासियों और महिलाओं सहित हर तबके के लिए कार्य करेगी।"

भगवा रंग पर विवाद: योगी सरकार के पलटवार पर प्रियंका ने दुर्गा मंत्र से दिया जवाब

हर वर्ग के लिए BJP सरकार लाई अनेक योजनाएं
उन्होंने कहा, "तीन करोड़ परिवारों के पास अपना घर नहीं था, सरकार ने दो करोड़ परिवारों को आवास दिए। दस करोड़ परिवारों के पास शौचालय नहीं था, स्वच्छ भारत मिशन के तहत सबको शौचालय दिए गए। तीन करोड़ परिवारों के पास बिजली कनेक्शन नहीं था, उन्हें सौभाग्य योजना के तहत बिजली कनेक्शन दिया गया। आठ करोड़ परिवारों के पास ईंधन का साधन नहीं था, उन्हें उज्जवला योजना के तहत रसोई गैस कनेक्शन दिया गया। आयुष्मान भारत योजना (Ayushman Bharat Yojana) के तहत स्वास्थ्य बीमा कवर प्रदान किया गया। यह दुनिया की सबसे बड़ी योजना है।"

प्रियंका गांधी का आरोप, CAA protest के दौरान UP सरकार और पुलिस ने फैलाई अराजकता

सपा-बसपा पर साधा निशाना
सपा-बसपा (SP-BSP) पर निशाना साधते हुए योगी ने सवाल किया कि आंबेडकर और कांशीराम के नाम पर बने स्मारकों और स्थलों का नाम किसने बदला? उन्होंने कहा, "अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लिए दी जाने वाली छात्रवृत्ति 2016-17 में सपा सरकार ने नहीं दी। हमारी सरकार आयी तो हमने छात्रवृत्ति दी। भाजपा जो कहती है, वह करती है। हमने जाति, मत, मजहब और भाषा के आधार पर भेदभाव नहीं किया।"

CAA व NRC के विरोध में सपा ने निकाला साइकिल मार्च, बीजेपी पर साधा निशाना

CAA को लेकर कही ये बात
इससे पहले बैठक शुरू होने पर सदन ने प्रख्यात समाजवादी नेता राज नारायण को श्रद्धांजलि दी और कुछ मिनट का मौन रखा। इसके बाद सपा (SP), बसपा (BSP) और कांग्रेस (Congress) के सदस्य नागरिकता संशोधन कानून (CAA 2019) के विरोध में नारेबाजी करते हुए आसन के सामने आ गए। विपक्षी सदस्यों की नारेबाजी के बीच ही संसद के दोनों सदनों द्वारा पारित संविधान :126वां संशोधन: विधेयक 2019 का सदन ने ध्वनिमत से समर्थन कर दिया। इसके बाद विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने सदन की बैठक अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.