Sunday, May 22, 2022
-->
yogi-adityanath-said-criminals-and-history-sheeters-included-in-sp-candidates-list-rkdsnt

सपा उम्मीदवारों की सूची में अपराधी और हिस्ट्रीशीटर शामिल : योगी 

  • Updated on 1/16/2022


नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सत्तारूढ़ भाजपा और मुख्य विपक्षी दल सपा द्वारा राज्य के आगामी विधानसभा चुनाव के लिए घोषित उम्मीदवारों की तुलना करते हुए कहा कि भाजपा ने जहां समाज के सभी वर्गों को प्रतिनिधित्व दिया है, वहीं सपा प्रत्याशियों की फेहरिस्त में अपराधी और हिस्ट्रीशीटर शामिल हैं।     

उप्र विस चुनाव : AAP ने जारी की 150 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट, OBC पर खेला दांव

मुख्यमंत्री ने यहां किंग जॉर्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय में कोविड-19 प्रबंधन संबंधी व्यवस्थाओं की समीक्षा करने के बाद संवाददाताओं से कहा 'भाजपा ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए अपने प्रत्याशियों की पहली सूची शनिवार को जारी की। आपने देखा होगा कि इसमें सामाजिक न्याय का दर्शन मिलता है।' उन्होंने कहा कि इस सूची में समाज के सभी वर्गों को समुचित प्रतिनिधित्व दिया गया है और जिसने भी वह सूची देखी है वह महसूस करेगा कि‘सबका साथ, सबका विकास’के नारे को सफल किया गया है। 

अखिलेश का दावा- गुजरात के लोगों को वापस न भेजा गया तो नहीं होगा निष्पक्ष चुनाव

 

योगी ने कहा 'लेकिन अगर आपने सपा गठबंधन के उम्मीदवारों की सूची देखी होगी तो उसमें एक ऐसे व्यक्ति को टिकट दे दिया गया है जो कैराना से हिंदू व्यापारियों के पलायन के लिए जिम्मेदार था। इसके अलावा लोनी सीट से एक हिस्ट्रीशीटर को टिकट दिया गया है। इससे सपा गठबंधन का चरित्र जाहिर होता है।' उन्होंने आरोप लगाया, 'सपा गठबंधन सरकार को अपराधियों और माफियाओं के जरिए लोगों के शोषण का एक माध्यम बनाना चाहता है। यह उनका सामाजिक न्याय है और टिकटों के वितरण में यह स्पष्ट नजर आता है।'

यूपी विधानसभा चुनाव : टिकैत ने रालोद-सपा गठबंधन को समर्थन देने का किया ऐलान


उत्तर प्रदेश में अकेल चुनाव लड़ेगी जद(यू)
जनता दल (यू) को उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिये गठबंधन के प्रस्ताव पर भाजपा की ओर से कोई जवाब नहीं मिला है, लिहाजा पार्टी अकेले चुनाव लड़ेगी। पार्टी के प्रवक्ता के. सी. त्यागी ने यह जानकारी दी। त्यागी ने कहा कि जद (यू) नेता और केंद्रीय मंत्री आर.सी.पी. सिंह ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेताओं अमित शाह और धर्मेंद्र प्रधान के अलावा पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा से संपर्क किया, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। जद (यू) ने सिंह को भाजपा के साथ गठबंधन के लिये बातचीत का जिम्मा सौंपा था।त्यागी ने कहा कि जद (यू) 18 जनवरी को लखनऊ में बैठक कर फैसला करेगी कि पार्टी को कितनी सीटों पर चुनाव लडऩा है।

भाजपा की ‘‘नफरत’’ की राजनीति देश के लिए बहुत हानिकारक है: राहुल गांधी

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.