Monday, Apr 12, 2021
-->
yogi-adityanath-said-light-house-project-will-prove-to-be-a-milestone-pragnt

योगी सरकार ने कहा- गरीबों के आवास की दिशा में मील का पत्थर साबित होगा 'लाइट हाउस प्रोजेक्ट'

  • Updated on 1/1/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की प्रेरणा से शहरी गरीबों को टिकाऊ और आपदारोधी आवास उपलब्ध कराने में उत्तर प्रदेश सरकार को सफलता मिली है और इस दिशा में 'लाइट हाउस प्रोजेक्ट' (Light House Projects) मील का पत्थर साबित होगा।

New Year पर PM मोदी ने दिया तोहफा, 6 राज्यों में लाइट हाउस प्रोजेक्ट्स की रखी आधारशिला

PM ने लाइट हाउस प्रोजेक्ट की रखी आधारशिला
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के अन्तर्गत अवध बिहार योजना, शहीद पथ, लखनऊ में 131 करोड़ रुपए की लागत की परियोजना 'लाइट हाउस प्रोजेक्ट' (एलएचपी) के शिलान्यास के मौके पर बोल रहे थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस परियोजना का ऑन लाइन शिलान्यास किया। देश में छह राज्यों में ग्लोबल हाउसिंग टेक्नोलॉजी चैलेंज इंडिया (जीएचटीसी इंडिया) की नींव और प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के वितरण कार्यक्रम में दिल्ली से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वर्चुअली जुड़े जबकि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शहीद पथ स्थित अवध विहार योजना में प्रस्तावित प्रोजेक्ट से लाइव जुड़े।

राहुल गांधी का PM मोदी पर हमला, कहा- उद्योगपतियों का 23 खरब रुपए का कर्ज किया माफ

अब तक 17.58 लाख परिवारों को दिया गया घर- योगी
इस मौके पर अपने संबोधन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नव वर्ष की बधाई देते हुए प्रधानमंत्री मोदी के प्रति आभार जताया। उन्होंने कहा कि सबके लिए आवास की इस योजना में शहरी क्षेत्र में उत्तर प्रदेश में अब तक 17 लाख 58 हजार परिवारों को एक-एक आवास आवंटित किया गया है जिसमें छह लाख 15 हजार आवास पूर्ण होकर गरीब परिवारों को उपलब्ध कराये जा चुके हैं और 10 लाख 80 हजार आवास निर्माण की प्रक्रिया से जुड़े हुए हैं। उन्होंने कहा कि यह परियोजना पूरी प्रतिबद्धता और समयबद्धता के साथ आवासहीन गरीबों को आवास उपलब्ध कराने में सफल हुई है। यह टिकाऊ और आपदारोधी तकनीक से बन रही है। एलएचपी के लिए उत्तर प्रदेश का चयन मॉडल के रूप में किया गया है।

TMC का 23वां स्थापना दिवस आज, CM ममता ने कहा- बंगाल में मां-माटी-मानुष को बढ़ाएंगे आगे

बनेगा भूकंप रोधी मकान का निर्माण
सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि लखनऊ में पांच टावर्स में 14 मंकालि में कुल 1040 आवासों का निर्माण किया जाएगा जो अधिक टिकाऊ, पर्यावरण अनुकूल और भूकंपरोधी होंगे। प्रवक्ता के मुताबिक लखनऊ के 1040 शहरी गरीबों को मात्र पौने पांच लाख में 415 वर्गफुट एरिया का फ्लैट अगले साल सौंपा जाएगा। इसकी कीमत 12 लाख 59 हजार होगी, इसमें केंद्र और प्रदेश सरकार की ओर से सात लाख 83 हजार रुपए अनुदान के रूप में दिए जाएंगे। शेष धनराशि चार लाख 76 हजार ईडब्ल्यूएस श्रेणी के लाभार्थी को देने होंगे। फ्लैट का आवंटन प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के अनुसार किया जाएगा और डूडा के माध्यम से डीएम की अध्यक्षता में खुली लॉटरी कराई जाएगी।।

Farm Laws: CM गहलोत का आरोप- किसानों को भड़का रहे BJP नेता

एक साल में पूरा होगा निर्माण कार्य
सरकारी प्रवक्ता के अनुसार आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय भारत सरकार ने शहरी कमजोर वर्गों को ध्यान में रखते हुए पांच अन्य राज्यों समेत उत्तर प्रदेश में लखनऊ को लाईट हाउस प्रोजेक्ट के तहत आवास बनाने के लिए चुना है। शहीद पथ स्थित अवध विहार योजना में बनने वाले एलएचपी का क्रियान्वयन 34.50 वर्ग मीटर कारपेट एरिया में किया जा रहा है। प्रवक्ता ने बताया कि प्रदेश सरकार भवन निर्माण सम्बन्धित अनुसंधान संस्थाओं, छात्रों, प्रौद्योगिकी संस्थाओं, वास्तुविदों और अभियंताओं में नई तकनीकों के उपयोग को बढ़ावा दे रही है। प्रोजेक्ट के क्रियान्वयन में नई तकनीक का प्रयोग किया जा रहा है, जिस कारण निर्माण कार्य करीब एक साल में पूरा हो सकेगा।

ये भी पढ़ें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.