Saturday, Nov 27, 2021
-->
yogi bjp up government returned congress buses border for migrant workers priyanka sad rkdsnt

कांग्रेस की बसों को योगी सरकार ने बेरंग लौटाया, बेअसर रही प्रियंका की अपील

  • Updated on 5/20/2020


नई दिल्ली/ब्यूरो। पैदल घरों को जा रहे प्रवासी मजदूरों को बसों से उनके घर पहुंचाने की मुहिम को योगी सरकार ने करारा झटका दिया है। बसों को लेकर जारी सियासी जंग के बीच यूपी सीमा पर खड़ी कांग्रेस की बसें वापस चली गईं। कांग्रेस ने पहले ही घोषणा कर दी थी कि शाम 4 बजे तक अगर योगी सरकार ने इन बसों का इस्तेमाल नहीं किया तो वह इन्हें वापस भेज देगी। 

उमर अब्दुल्ला ने PM मोदी से लगाई गुहार, कहा- ईद से हम कुछ दिन दूर हैं...

इस बीच यूपी सरकार की ओर से दलील दी गई है कि इन बसों में ज्यादातर कंडम हैं, जिन्हें सड़कों पर चलने की इजाजत देकर मजदूरों के जिंदगी से खिलवाड़ नहीं किया जा सकता है। इसके पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने एक वीडियो संदेश में दावा किया कि दिल्ली से लगी यूपी सीमा पर करीब 400 बसें और राजस्थान से लगी यूपी सीमा पर 500 बसें बीते 24 घंटे से खड़ी हैं। बुधवार शाम 4 बजे तक अगर यूपी सरकार इन बसों का उपयोग प्रवासी मजदूरों को उनके घरों तक ले जाने में नहीं करती तो वह इन्हें वापस भेज देंगी। 

कांग्रेस नेता को मालिनी अवस्थी ने दी चेतावनी, बोलीं- मेरे पति की मिसाल देता है पूरा यूपी

 

उन्होंने यह भी कहा था कि सरकार चाहे तो इन बसों पर भाजपा का स्टिकर लगवा दे, लेकिन मजदूरों को उनके घरों तक बसों से ले जाने की इजाजत दे दे। सरकार की ओर से फिलहाल देर शाम तक इन बसों को इजाजत नहीं दी गई। यूपी सरकार ने दावा किया कि कांग्रेस की ओर से दी गई बसों की सूची की जांच में काफी गड़बड़झाला है। एक प्रेस कांफ्रेंस में उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने आरोप लगाया कि कांग्रेस पार्टी के पास कोई बसें नहीं हैं। यह सारी बसें राजस्थान सरकार की हैं। 

AAP सांसद ने पूछा- आखिर अपनी सभी ट्रेने क्यों नही चला रही है रेलवे?

उन्होंने बताया कि जब सूची का विश्लेषण किया गया तो 260 बसें फर्जी मिलीं। 98 तीन पहिया वाहन, कार और एंबुलेंस के नंबर मिले। 68 वाहनों के कागज सही नहीं पाए गए और 297 बसें कबाड़ मिलीं, जो सड़कों पर चलने लायक नहीं हैं। ऐसी अनफिट बसों को सड़क पर चलाकर प्रवासी मजदूरों की जिंदगी खतरे में नहीं डाला जा सकता।

कन्हैया का भाजपा सरकार पर तंज, बोले- इनको इंसानों से ज्यादा 'कागज' की परवाह

उन्होंने कहा कि ऐसे कठिन समय में इतने बड़े राजनीतिक दल को ऐसी राजनीति नहीं करनी चाहिए थी।इस बीच रायबरेली सदर से कांग्रेस की बागी विधायक अदिति सिंह ने भी बस मुद्दे पर प्रवासी मजदूरों को लेकर अपनी ही पार्टी पर डर्टी पॉलिटिक्स करने का आरोप लगा दिया। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.