yogi government trying to save bjps firebrand leader sangeet som from riot

फायरब्रांड नेता संगीत सोम को दंगे मामलों से बचाने में जुटी योगी सरकार!

  • Updated on 8/13/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।  यूपी (up) बीजेपी (bjp) के फायरब्रांड नेता संगीत सोम (sangeet som) को दंगे के दाग से बचाने के लिये योगी सरकार (yogi government) ने कवायद शुरु कर दी है। इसके लिये सीएम योगी आदित्यनाथ (yogi adityanath) ने पश्चिमी यूपी (western up) के 4 डीएम को पत्र लिखकर संगीत सोम के खिलाफ मुकदमें की स्टेटस रिपोर्ट देने को कहा है। बीजेपी विधायक संगीत सोम पर चर्चित मुजफ्फरनगर दंगा भड़काने का कथित आरोप है। जिसको लेकर सरकार के इस फैसले को महत्वपूर्ण माना जा रहा है। 

कश्मीर में हालात हो रहे सामान्य, अक्टूबर में इन्‍वेस्‍टर समिट को लेकर तैयारी शुरु

केशव मौर्य ने योगी सरकार के फैसले का किया बचाव

सरदना से विधायक संगीत सोम पर दंगों को लेकर 175 मुकदमें दर्ज है जिसमें से 70 को हटाने पर योगी सरकार विचार कर सकती है। यूपी के उप मुख्‍यमंत्री केशव मौर्य ने योगी सरकार का बचाव करते हुए कहा कि संगीत सोम के खिलाफ तत्कालीन अखिलेश सरकार ने फर्जी केस दायर किया था, जिसे वापस लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उस समय के सपा सरकार ने राजनीति से प्रेरित होकर जानबूझकर संगीत सोम को फंसाने का काम किया था।  

जीवन के अंतिम समय में भी मां भारती की चिंता में डूबी थी सुषमा स्वराजः पीएम मोदी

विपक्षी नेताओं ने जताया एतराज 
उधर विपक्षी पार्टियों ने योगी सरकार के इस फैसले पर कड़ी आपत्ति जताई है। सपा विधायक दल के नेता राम गोविंद चौधरी ने कहा कि असल में बीजेपी फिर से दंगा कराना चाहती है। जिसको लेकर दंगाई संगीत सोम को बचाना चाहती है। उन्होंने तीखे शब्दों में योगी सरकार की निंदा की है। उन्होंने कहा कि बीजेपी के इतिहास को पलटा जाए तो दंगा ही मुख्य एजेंडा रहा है। इसलिये इसमें कुछ भी नया नहीं है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.