Tuesday, Feb 20, 2018

योगी सरकार ने दिए अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट की जांच के आदेश

  • Updated on 4/1/2017

Navodayatimesनई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश की कमान संभालते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक्शन में आ गए हैं। शपथ लेने के साथ ही सीएम योगी ने जहां प्रदेश में कानून-व्यवस्था कड़ी करने के आदेश दिए थे।

वहीं अब उन्होंने पूर्व अखिलेश सरकार के दौरान शुरू हुई योजनाओं और प्रोजेक्ट की जांच के आदेश भी दिए हैं।  इसी के चलते सीएम योगी ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट गोमती रिवरफ्रंट में घोटाले की जांच के आदेश दिए हैं।

वक्फ काउंसिल आफ इण्डिया की रिपोर्ट से बढ़ सकती हैं आजम खां की मुश्किलें

इतना ही नहीं, सरकार ने जांच की रिपोर्ट 45 दिनों में देने के लिए भी कहा। जानकारी के मुताबिक इस प्रोजेक्ट की न्यायिक जांच को लेकर भी औपचारिक ऐलान जल्द किया जा सकता है।

उल्लेखनीय है कि सीएम योगी पिछले ही हफ्ते रिवरफ्रंट प्रोजेक्ट से जुड़े अधिकारियों के साथ मीटिंग की थी और जमकर उनकी क्लास लगाई थी। इस दौरान योगी ने अधिकारियों से पूछा था कि गोमती नदी का पानी गंदा क्यों है? क्या सारे पैसे पत्थरों में लगा दिए?

केजरीवाल पहुंचे EC, बोले- EVM के कीचड़ से कमल निकल रहा है

साथ ही उन्होंने कहा पूछा कि प्रोजेक्ट की लागत इतनी ज्यादा कैसे हुई? साथ ही कहा कि रिवरफ्रंट परियोजना में 6 किमी नदी को 3 मीटर गहराई में गहरा किया गया है, तो इतनी मिट्टी निकाल कर कहां फेंकी गई? 

इस पर योगी ने जमकर अधिकारियों को लताड़ते हुए कहा कि इस प्रोजेक्ट की लागत ज्यादा होने के कारण इसे संशोधित करें और इसे एक साल के भीतर पूरा करें। इतना ही नहीं, सूत्रों की मानें तो योगी इस प्रोजेक्ट से जुड़े अधिकारियों पर कार्रवाई भी कर सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.