Thursday, Dec 09, 2021
-->
how to get over from ear pain sosnnt

अगर आपके कानों में दर्द या फिर आवाज सुनाई देती है, तो हो जाएं सावधान

  • Updated on 12/30/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कान का दर्द एक काफी आम बीमारी है, जो लाखों लोगों को प्रभावित करती है। क्या आपके कानों में भी कोई आवाज गूंजती है, या फिर क्या कभी ऐसा लगता है, जैसे कि कोई सीटी बज रही हो ? अगर आपके साथ ऐसा हो रहा है, तो आपको अभी से सावधान होने की जरुरत है।

क्या है टिनिटस ?
यह टिनिटस नाम की एक गंभीर बीमारी हो सकती है। टिनिटस की समस्या में कानों के अंदर बिना किसी कारण आवाज गूंजती है। इसे रक्तवाहिनियों की समस्या या उम्र के साथ सुनने की शक्ति क्षीण होने से जोड़कर देखा जा सकता है। 

सर्दियों में मेथी का साग देगा जोड़ों के दर्द में आराम और चेहरे पर ग्लो

कान में दर्द की बड़ी निशानी है टिनिटस

  1. कहा जाता है सबसे ज्यादा टिनिटस(Tinnitus) तेज आवाजों के संपर्क में आने के कारण समस्या पैदा हो सकती है। किसी भी फैक्ट्री या फिर साउंड उपकरणों का शोर टिनिटस  की समस्यों को जन्म देता है।
  2. दुसरा अगर आपके कान में वैक्स इकट्टा होना भी इसका एक कारण है। कभी कभी हमारे कानों में अतिरिक्त मात्रा में मोम जम जाता है, जो टिनिटस की समस्या को जन्म दे सकता है। 
  3. तीसरी खास बात कान की हड्डी का बढ़ना भी इस समस्या के लिए जिम्मेदार हो सकता है, इससे सुनने की क्षमता पर विपरीत असर पड़ता है। ऐसा लगने पर डॉक्टर से जरूर संपर्क करें।
  4.  कई बार उम्र बढ़ने के साथ सुनने की क्षमता क्षीण होने लगती है। यह भी टिनिटस की समस्या हो सकती है। साठ साल की उम्र के बाद इस समस्या का खतरा अधि‍क होता है। 

कम बजट में लेना चाहते हैं ट्रिप का मजा, तो इस न्यू ईयर जाएं इन खूबसूरत जगहों पर

​​​​​​
जानें कितने तरीके के होते है टिनिटस

  1. ज्यादातर लोगों को जो समस्या होती है, उसमें कान के अंदरूनी, बाहरी या बीच के भाग में परेशानी होती है। सुनने की क्षमता के लिए जिम्मेदार नसों में किसी प्रकार की समस्या का होना व्यक्तिपरक टिनिटस कहलाता है।
  2. वहीं टिनिटस का एक और भी प्रकार है, जो कि वस्तुपरक होता है। इसका कारण यह है, कि यह केवल डॉक्टर द्वारा तकनीकी जांच में ही सामने आता है। इस तरह के टिनिटस में खून की धमनियों में समस्या होती है। यह काफी कम लोगों में देखने को मिलता है। 

इस दिशा में सोएंगे तो होगी धन की प्राप्ती

टिनिटस से बचने के लिए ले 5 बड़े कदम

  1. कान को समय-समय पर साफ करते रहें। अगर आपके कान में काफी मोम जम गया है तो इसे निकालना बहुत जरूरी है इस बात का ध्यान रखें। इसके लिए सुरक्ष‍ित साधनों का प्रयोग करें।
  2. अत्यधिक शोर वाले स्थान से दूरी बनाएं रखें। यह आपकी श्रवण क्षमता को बुरी तरह से प्रभावित करता है।
  3. आप चाहें तो कानों को ढंकने के लिए मास्क का प्रयोग कर सकते हैं, जिससे शोर शराबे से सुरक्ष‍ित रह सकें। 
  4. कुछ ऐसे यंत्रों का प्रयोग किया जा सकता है, जो पर्यावरण संबंधी आवाजों के स्त्रोत होते हैं। इस तरह की चीजें कानों के लिए काफी फायदेमंद साबित होती हैं।
  5. कई बार दवाईयों के साइड इफेट्स के रूप में टिनिटस की समस्या सामने आती है। इसलिए दवाईयों को डॉक्टरी परामर्शानुसार बदलते रहें।
  6. यहां पढ़ें लाइफस्टाइल से जुड़ी 10 बड़ी खबरें 

    अब साड़ी में मोटी महिलाएं भी दिखेंगी पतली, Follow करें ये खास टिप्स

    शादीशुदा व्यक्ति को डेट करने से पहले जान लें इसका परिणाम

    ठंड में अमरूद का सेवन करने से ठीक हो जाएगी बवासीर, जानें और भी फायदें 

    इन कारणों से Single लोग रहते हैं ज्यादा स्वस्थ और खुश

    सर्दियों में खांसी-जुकाम से हैं परेशान तो अपनाएं ये रामबाण घरेलू नुस्खे

    अगर आप मोटापे से हैं परेशान तो Follow करें ये 3 फार्मूले वाली डाइट

    Hair Care: अगर आप बाल झड़ने से हैं परेशान तो अपनाएं ये 5 घरेलू उपाय

    अगर बीमारियों से रहना है दूर तो मॉर्निंग डाइट में शामिल करें ये 4 चीजें

    ऑफिस में काम करते हुए कहीं आप तो नहीं करते ये गलतियां...

    वजन कम करने के लिए नाश्ते में शामिल करें ये 3 जूस, मोटापा हो जाएगा गायब

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.