these-food-can-kill-your-child-during-birth

अगर आप भी है गर्भवती तो इन चीजों को खाने से पहले खबर को जरुर पढ़ें

  • Updated on 8/9/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। हर महिला के जीवन में एक ना एक दिन ऐसा जरुर आता है जब उसे इस दुनिया में एक नए जीवन को जन्म देना होता है। ये लम्हा हर महिला के लिए बेहद खास होता है जब वह बच्चे को जन्म देती है। लेकिन बच्चे को जन्म देने से पहले महिलाओं के लिए कई कड़ी चुनौती आती है जिसका ध्यान रखना बेहद जरुरी है।

कई गंभीर बीमारियों का रामबाण इलाज है केसर, कुछ दिनों के इस्तेमाल में दिखने लगेगा लाभ

जैसे कैसे देखभाल करना चाहिए, काम नहीं करना चाहिए और खान-पान पर विशेष ध्यान देना चाहिए। गर्भवती महिलाओं (Pregnant Women) को ऐसी परिस्थिती में काम करना वर्जित होता है साथ इसमें खान-पान का भी विशेष रुप से ध्यान रखना होता है। अक्सर आपने गर्भवती महिलाओं को देखा होगा जिसमें उन्हें इस परिस्थिती में ज्यादा से ज्यादा भूख लगती है जिसके लिए वो पौष्टिक खाना को छोड़कर बाहर के खाने की चीजों का सेवन करने लगती है।

अध्ययन : हर पांच में से तीन बच्चे जन्म के पहले घंटे में कोलोस्ट्रम से वंचित रह जाते हैं

इसलिए यह जरुरी है कि महिलाएं गर्भवस्था के दौरान खान-पान के चीजों में कुछ चीजों का सेवन ना करें, इससे उनकी सेहत और उनके पेट में पल रहे शिशु पर असर पड़ सकता है। आइए जानते हैं कि गर्भावस्था के दौरान कौन-से खानें की चीजें हैं जहर।

कच्चा पपीता गर्भावस्था के लिए जहर 

गर्भावस्था (Pregnancy) के दौरान महिलाओं को चुनींदा फलों का सेवन नहीं करना चाहिए जिनमें कच्चा पपीता मुख्य है। आपको बता दें कि, कच्चा पपीता (Raw Papaya) गर्भवती महिलाओं के लिए जहर होता है जिसके सेवन से महिलाएं अपने शिशु से हाथ धो सकती है। कच्चे पपीते में पाए जाने वाले तत्व से महिलाओं को मिसकैरिज यानी की गर्भपात का खतरा हो सकता है।

पीरियड्स में अनियमितता बन सकती है कैंसर जैसी गंभीर बीमारी की वजह, रखें खास ख्याल

चाइनीज फूड का ना करें सेवन

चाइनीज फूड का सेवन गर्भावस्था के दौरान नहीं करना चाहिए, क्योंकि इसके सेवन से महिलाओं के स्वास्थ्य पर असर पड़ सकता है और साथ ही उनके शिशु पर भी खतरा बना रह सकता है। चाइनीज फूड (Chinese Food) में पाए जाने वाला सोया सॉस गर्भ में पल रहे शिशु के लिए हानिकारक है, क्योंकि इसमें अधिक मात्रा में नमक पाया जाता है जो महिलाओं के रक्तचाप को बढ़ाने के लिए काफी है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.