Tuesday, Sep 25, 2018

ऐसी है शरीर की बनावट तो दिमाग में सूजन का बढ़ता है खतरा, जानें

  • Updated on 9/14/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। सभी के शरीर की बनावट अलग होती है। लेकिन कम लोग ये बात जानते हैं कि शरीर की बनावट का असर शरीर के अंदर भी पड़ता है। इसके कारण कई तरह के ऐसे बदलाव हो सकते हैं जो स्वास्थ्य के नजरिए से हानिकारक हो सकते हैं। किसी के शरीर का आकार अगर सेब की तरह है तो उनके दिमाग में सूजन का खतरा बढ़ जाता है।

सेब के आकार का मतलब की शरीर पर पेट के आस-पास फैट जमा होने लगता है। जिन लोगों के पेट के आस-पास फैट जमा हो जाता है उनके दिमाग में सूजन का खतरा बढ़ जाता है। एक शोध से पता चला है कि जिनके पेट के पास ज्यादा फैट होता है उनमें दिमाग की बीमारी और सूजन की बीमारी का खतरा भी उतना ही ज्यादा होता है।

बासी रोटी खाने से पहले रखें ध्यान, होते हैं कई फायदे भी

वहीं जिन लोगों के शरीर का आकार एक नाशपाती जैसा होता है यानि की जिनका फैट उनके हिप्स, थाई या कमर के निचले हिस्से पर जमा होता है उनमें ये खतरा कम होता है। शोधकर्ताओं का कहना है कि पेट पर जमा होने वाले फैट से दिमाग में सूजन का खतरा सबसे ज्यादा पुरुषों को होता है। उन्होंने कहा कि महिलाओं को इससे खतरा नहीं है क्योंकि प्रेग्नेंसी के दौरान उनमें पेट के आस-पास फैट जरूर आता है जो खतरा पैदा नहीं करता। 

पीठ का दर्द युवाओं के लिए है घातक, ऐसे करें बचाव

लेकिन महिला का अगर वजन आमतौर पर भी तेजी से बढ़ रहा है तो उनमें भी खतरा बढ़ जाता है। शोधकर्ताओं का कहना है कि अपने खाने-पीने का ध्यान रखें और इस बात पर गौर करें की फैट न बढ़े खासतौर पर पेट के आस-पास। शोध में कहा गया कि महिलाओं में पैदा होने वाला एक हार्मोन उनमें फैट को पेट के आस-पास जमा नहीं होने देता।

मेनोपॉज के बाद ये हार्मोन कम हो जाता है जिस कारण महिलाओं में ये फैट बढ़ने लगता है और बढ़ते हुए उपर की ओर आ जाता है। इससे उनके शरीर का आकार एक सेब जैसा हो जाता है। इस आकार की महिलाओं में भी दिमाग की सूजन का खतरा होने लगता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.