Friday, May 27, 2022
-->
1984-sikh-riots-notice-issued-in-the-case-of-congress-leader-kamal-nath

1984 सिख दंगा: कांग्रेस नेता कमलनाथ के मामले में नोटिस जारी

  • Updated on 1/28/2022

नयी दिल्ली /नेशनल ब्यूरो : 1984 के सिख विरोधी दंगों के मामले में अदालत ने कांग्रेस नेता कमलनाथ के खिलाफ दायर याचिका पर विशेष जांच टीम (एसआईटी) को नोटिस जारी कर हुई कार्यवाही की स्टेटस रिपोर्ट तलब की है। इस मामले में दिल्ली सिख गुरुद्वारा कमेटी के पूर्व अध्यक्ष एवं भाजपा नेता सरदार मनजिन्दर सिंह सिरसा ने बताया कि उन्होंने इस मामले में  कमलनाथ के खिलाफ दर्ज एफआईआर नंबर 601 /1984 पार्लियामेंट स्ट्रीट पुलिस थाने के संबंध में दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर करके मांग की थी कि एसआईटी को कमलनाथ के खिलाफ कार्रवाई करने और उसे गिरफ्तार करने की हिदायत की जाए।
 सिरसा ने बताया कि यह मामला 1984 के सिख दंगों के समय पर गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब में दो सिखों के कत्ल के साथ सम्बन्धित है। इस मामले में एस.आई.टी. को अपने मांग पत्र भी दिए और कमलनाथ के खिलाफ गवाह भी पेश किए गए हैं। गृह मंत्रालय से कमलनाथ के खिलाफ केस फिर खोलने की मंजूरी भी ले कर दी लेकिन एसआईटी ने जब कोई कार्यवाही नहीं की तो  हाईकोर्ट जाना पड़ा। उन्होंने बताया कि आज जस्टिस सुब्रमनियम प्रसाद की बैंच में मामले की सुनवाई हुई। अदालत ने दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद एसआईटी को नोटिस जारी कर स्टिेटस रिपोर्ट तलब कर ली। अब मामले की सुनवाही 28 मार्च 2022 को होगी।
 सिरसा ने कहा कि सिख कौम 37 सालों से न्याय हासिल करने के लिए संघर्ष कर रही है। उन्होंने कहा कि चाहे सज्जन कुमार को उम्र कैद होने के साथ कुछ न्याय मिला है परन्तु अभी कमलनाथ समेत अन्य दोषियों को सजाएं मिलने तक संघर्ष बाकी है। अदालत के इस कदम से कौम में न्याय की आशा फिर जगाई है । उन्होंने कहा कि वह अलग-अलग अदालतों में मामलों की आप पैरवी कर रहे हैं और कौम के साथ मिल कर यकीनी बनाऐंगे कि हर केस में न्याय मिले और दोषी को उम्रकैद या फांसी हो।
  इस बीच दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष हरमीत सिंह कालका और महासचिव जगदीप सिंह काहलों ने कहा है कि अब कांग्रेसी नेता कमलनाथ के जेल जाने का रास्ता साफ हो गया है। कालका व काहलों ने कहा कि कमलनाथ 1984 में गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब में दो सिखों को मारने वाली भीड़ की अगुवाई कर रहे थे। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.