Sunday, Dec 04, 2022
-->
63-km-new-railway-line-will-be-built-between-meerut-hastinapur-bijnor-ashwini-vaishnav-approved

मेरठ-हस्तिनापुर-बिजनौर के बीच 63.5 किमी नई रेल लाइन बनेगी, रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव ने दी मंजूरी

  • Updated on 8/27/2022

 नई दिल्ली /सुनील पाण्डेय : पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मेरठ-हस्तिनापुर-बिजनौर नई रेल लाइन के लिए दशकों से चली आ रही मांग पूरी हो गई। रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव ने इस क्षेत्र को नई रेल लाइन का बड़ा तोहफा दिया है। इस 63.5 किमी लंबी नई रेल लाइन के सर्वेक्षण के लिए 1,58,75,000 रुपये खर्च किया जाने का अनुमान है। रेल मंत्रालय ने इस मेरठ-हस्तिनापुर-बिजनौर नई रेल लाइन के फाइनल लोकेशन सर्वे को मंजूरी दे दी है।  रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने खुद इसकी जानकारी दी है। रेल मंत्रालय ने दो दिनों के रिकॉर्ड समय में नई रेल लाइन के एफएसएल को मंजूरी दी है। हस्तिनापुर और बिजनौर शहर इस लाइन के चालू होने से दिल्ली, लखनऊ और देश के प्रमुख शहरों से जुड़ जाएंगे। बिजनौर भारत का प्रमुख चीनी उत्पादक क्षेत्र है। नई लाइन के निर्माण से लोगों के लिए मार्केटिंग और यात्रा करने के अवसर बढ़ेगें। हस्तिनापुर महाकाव्य महाभारत में उल्लेखित एक प्राचीन शहर है। बेहतर यात्रा सुविधाएं इस क्षेत्र को पर्यटन और तीर्थस्थल के रूप में विकसित करने में सहायक होंगी।
  बता दें कि  रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव 23-24 अगस्त को उत्तर प्रदेश के बिजनौर और धामपुर जिलों के अपने दो दिवसीय दौरे पर गए थे। यहां स्थानीय लोगों ने इस मेरठ-हस्तिनापुर - बिजनौर रेल लाइन का मामला उठाया। साथ ही बताया कि इस रेलवे लाइन की कई दशकों से मांग उठ रही है। स्थानीय सांसदों ने भी इसका मुददा संसद से लेकर सड़क तक उठाया। लोगों की मांग देखते हुए रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव ने तुरंत इस नए रेल मार्ग को अमलीजामा पहनाते हुए हरी झंडी दे दी। इस रेलवे लाइन के बन जाने से राजधानी दिल्ली सहित कई बड़े शहर कनेक्ट हो जाएंगे और रोजगार सहित लोगों की दिनचर्या बदल जाएगी। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.