Monday, Oct 03, 2022
-->
aamir-says-terrorism-has-no-religion

लोगों को मारने वालों का कोई मजहब नहीं होता : आमिर

  • Updated on 7/7/2016

नई दिल्ली, टीम डिजिटल : बांग्लादेश में लगातार हो रहे आतंकी हमलों पर अभिनेता आमिर खान ने आज गहरी चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि आतंकवाद का कोई मजहब नहीं होता। जो ऐसा कहता है उसका कोई धर्म नहीं है। 

अपकमिंग फिल्म दंगल पर आमिर खान ने कहा, जो लोग ऐसा कहते हैं कि वे लोग मजहब के नाम पर हमला करते हैं, वे लोग गलत करते हैं। मजहब प्यार करना सिखाता है, हिंसा और आतंकवाद फैलाना नहीं। हिंदू, मुसलमान, सिख और ईसाई चाहे जो हो, जो इंसान को मारते हैं, उनका कोई धर्म नहीं होता। उनका मजहब से कोई लेना देना नहीं होता है।

दरअसल, पांच दिनों के भीतर बांग्लादेश में दो आतंकी हमले हुए और हर हमले के बाद यही कहा जाता है कि जेहाद के लिए ऐसा किया जा रहा है। आमिर से जाकिर पर पाबंदी लगाने की बात पर कहा कि जो लोग देश का अहित सोचते हैं, उनपर कार्रवाई होनी चाहिए। इन सब मामले में कानून का सख्त पालन किया जाना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें…

comments

.
.
.
.
.