Tuesday, Sep 28, 2021
-->
agra uttarpradesh bjp prashant kumar sobhnt

UP सरकार ने दरोगा प्रशांत कुमार के परिवार को 50 लाख के मुआवजे का ऐलान किया

  • Updated on 3/25/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। आगरा के थाना खंदौली क्षेत्र के गांव नहर्रा में बुधवार शाम दो भाइयों के विवाद की सूचना पर गई पुलिस टीम पर एक व्यक्ति ने गोली चला दी जिससे एक उप निरीक्षक की मौत हो गयी। आरोपी फरार है। यह जानकारी पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने दी। अपर पुलिस महानिदेशक प्रशांत कुमार ने  को बताया कि आगरा के थाना खंदौली पुलिस को गांव नहर्रा में विश्वनाथ और उसके भाई शिवनाथ के बीच आलू के बंटवारे को लेकर विवाद होने की सूचना मिली। योगी सरकार ने दरोगा के परिवार को 50 लाख देने का ऐलान किया है।

संसदीय समिति का ग्रामीण क्षेत्रों में RTI कानून के बारे में जागरूकता फैलाने का निर्देश    

दरोगा प्रशांत को गोली मारी
उन्होंने बताया कि शिवनाथ ने पुलिस को सूचना दी थी और इस सूचना पर दरोगा प्रशांत, सिपाही चंद्रसेन के साथ शाम को गांव पहुंचे। उन्होंने बताया कि वहां पता चला कि विश्वनाथ गांव वालों को भी तमंचे से धमका रहा था और रोकने पर उसने दरोगा प्रशांत पर गोली चला दी। उन्होंने बताया कि गोली गले में लगने से दरोगा लहूलुहान होकर वहीं गिर पड़े। उन्होंने बताया कि दरोगा प्रशांत की अस्पताल ले जाते समय रास्ते में ही मौत हो गयी। उन्होंने बताया कि दरोगा बुलंदशहर के रहने वाले थे। घटना के बाद पुलिस पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि आरोपी फरार है।     

सीतारमण बोलीं- भारत की इंवेस्टमेंट ग्रेड रेटिंग घटने के आसार नहीं

50 लाख की आर्थिक सहायता का ऐलान किया 
कुमार ने बताया कि प्रशांत की उम्र करीब 35 से 40 साल के बीच थी और वह 2015 बैच के उप निरीक्षक थे। उन्होंने बताया कि आरोपी विश्वनाथ को पकडऩे के लिये पुलिस की कई टीमें लगायी गयी हैं और वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गये हैं। इस बीच लखनऊ में राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद आगरा की घटना में उपनिरीक्षक प्रशान्त यादव की मृत्यु पर गहरा दु:ख व्यक्त किया है। उन्होंने घटना में जान गंवाने वाले उप निरीक्षक के परिजनों को 50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करने की घोषणा की है।     

INX मीडिया: अदालत ने चिदंबरम, पुत्र कार्ति को धनशोधन मामले में समन किया जारी 

जनपद की सड़क का करेंगे नामकरण 
उन्होंने पुलिसकर्मी के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने तथा जनपद की एक सड़क का नामकरण उनके नाम पर करने की भी घोषणा की है। प्रवक्ता के अनुसार मुख्यमंत्री ने इस घटना के दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि दोषियों को किसी भी हाल में बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने उपनिरीक्षक के परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि शोक की इस घड़ी में राज्य सरकार उनके साथ है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार उप निरीक्षक के परिवार को हर सम्भव मदद प्रदान करेगी।       

 

यहां पढ़े बॉलीवुड से जुड़ी बड़ी खबरें... 

सीतारमण बोलीं- भारत की इंवेस्टमेंट ग्रेड रेटिंग घटने के आसार नहीं

रोमांटिक पोज दे रहे थे मलाइका-अर्जुन, करीना ने सरेआम पूछा यह पर्सनल सवाल

INX मीडिया: अदालत ने चिदंबरम, पुत्र कार्ति को धनशोधन मामले में समन किया जारी 

खत्म हुई जुदाई, कोरोना के बाद पहली बार साथ दिखें अर्जुन-मलाइका

ऑनलाइन माध्यमों से कोरोना काल में जुड़ा व्यापार और विचार

अर्जुन और निक की तरह अगर आपको भी है बड़ी उम्र की लड़कियों से प्यार, तो यहां जानें फायदे 

कुंभ स्नान को कोरोना निगेटिव रिपोर्ट जरूरी, उत्तराखंड शासन ने लिया यू टर्न

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.