Tuesday, Jan 25, 2022
-->
ayodhya ram mandir fund collection ram mandir donation ram mandir nidhi sobhnt

राम मंदिर निर्माण के लिए निधि समर्पण अभियान हुआ खत्म, 2100 करोड़ की राशि हुई प्राप्त

  • Updated on 3/1/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। अयोध्या (Ayodhya) में बनने वाले भगवान राम के मंदिर (Ram mandir) के लिए देशभर में चल रहा निधि समर्पण अभियान को खत्म कर दिया गया है। बता दें 44 दिन चले इस अभियान के बाद संगठन ने बताया है कि इसके तहत उन्हें करीब 2100 करोड़ रुपए की राशि प्राप्त हुई है। विश्व हिंदू परिषद (VHP) के केंद्रीय कार्याध्यक्ष और अभियान के संयोजक एडवोकेट ने इसकी जानकारी दी है और अभियान में हिस्सा लेने वालों का धन्यवाद भी किया है। 

मुजफ्फरनगर के गांवों में कृषि कानूनों के मुकाबले गन्ने का मुद्दा हुआ ज्यादा हावी

10 लाख टोलियों में लोगों ने चंदा इकट्ठा किया
बता दें इस अभियान में करीब 10 लाख टोलियों में 40 लाख से ज्यादा समर्पित कार्यकर्ताओं ने देश के अलग-अलग हिस्से मे जाकर चंदा इकट्ठा किया। इस अभियान के तहत यह लोग देश के गांव, प्रांत, तहसील और जिला जाकर लोगों ने राम मंदिर के लिए चंदा इकट्ठा किया। इन लोगों ने कहा इस दौरान कई पल ऐसे भी आए जब कार्यकर्ताओं को भावुक होना पड़ा क्योंकि कुछ लोग अपनी क्षमता से ज्यादा पैसा दे रहे थे। ऐसे लोगों को देकर कार्यकर्ता भावुक हो गए। 

मेरा सपना भारत और पाकिस्तान को ‘अच्छे दोस्त’ बनते देखना है: मलाला यूसुफजई  

44 दिनों तक चला अभियान 
मकर संक्राति के दिन शुरु किया गया यह अभियान 44 दिनों तक चला था। अभियान के राष्ट्रीय संयोजक आलोक कुमार ने बताया कि इस अभियान में शामिल होने वाले लोगों को रामदूत मानकर उसकी सेवा की। भगवान राम के भक्तों ने पूर्ण उदारता, समरसता और एकात्मकता के साथ लोगों की अगवानी की। वह कहते हैं कि वह रामभक्तों ने श्रद्धा, विश्वास व समर्पण करते हुए देखा गया।   

मुजफ्फरनगर के गांवों में कृषि कानूनों के मुकाबले गन्ने का मुद्दा हुआ ज्यादा हावी 

2100 करोड़ रुपए का चंदा किया इकट्ठा
गौरतलब है कि श्री राम जन्मभूमि तीर्थ न्यास के कोषाध्यक्ष गोविंद देव गिरी ने बताया था कि उन्होंने लोगों को अनुमान चंदे से 1100  करोड़ इकट्ठा करने का था मगर लोगों की इस भागीदारी की वजह से उन्होंने 1000 करोड़ रुपए ज्यादा इकट्ठा कर लिए हैं। वह कहते हैं कि मंदिर बनाने में 300-400 करोड़ और पूरा परिसर बनाने में लगभग 1100 करोड़  रुपए का खर्च आएगा।  वह कहते हैं कि ऐसा इसलिए संभव हो पाया क्योंकि लोगों ने धर्मों की दीवार को तोड़कर अपने भगवान के लिए चंदा दिया है। 

 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.