Tuesday, Jan 18, 2022
-->
bharat-bandh-farmers-claim-all-schools-colleges-banks-government-private-work-remain-closed

भारत बंद, किसानों का दावा बंद रहेंगे सभी स्कूल, कॉलेज, बैंक, सरकारी-निजी कामकाज 

  • Updated on 9/26/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। तीन कृषि कानूनों पर आज ही के दिन राष्ट्रपति ने सहमति दी थी इसलिए आज किसानों ने सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक भारत बंद का ऐलान किया है। लेकिन अस्पताल, मेडिकल स्टोर, एंबुलेंस और कोई भी मेडिकल सेवा के साथ-साथ फायर  ब्रिगेड, आपदा राहत, व्यक्तिगत इमरजेंसी, मृत्यु, बीमारी, शादी या किसी जरूरी काम के लिए आप निकल रहे हैं तो किसान नेता, कार्यकर्ता आपको नहीं रोकेंगे। इसके साथ ही देश भर में अगर कोई भी स्थानीय संगठन आवाजाही की छूट देते हैं तो वह भी मान्य होगी। 
    किसानों ने दावा किया है कि सरकारी, निजी कार्यालय, फैक्ट्रियों, स्कूलों, कॉलेजों को बंद रखा जाएगा लेकिन जबरदस्ती नहीं होगी। किसानों के विरोध प्रदर्शन के दस महीने पूरे हो गए हैं और सोमवार को भारत बंद को कांग्रेस, समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पाटी्र्र, आम आदमी पार्टी, तेलुगु देशम पार्टी सहित कई राजनीतिक दल समर्थन दे रहे हैं। हालंाकि इन राजनीतिक दलों के नेताओं को किसान मंच पर चढऩे नहीं देंगे। 
सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक पूरे देश में व्यापक बंद रहेगा। जबकि केंद्रीय श्रम संगठनों ने नई दिल्ली के जंतर मंतर पर सुबह 11 बजे एक विरोध रैली का आयोजन किया है। 
        किसान संगठनों ने श्रम संगठनों सहित अपने समर्थकों के साथ, यह सुनिश्चित करने के लिए विस्तृत योजनाएं बनाई हैं कि आपातकालीन सेवाओं को छोड़कर, देश भर में कल कामकाज न हो। इसके लिए बजाप्ता दिशा-निर्देश जारी किए हैं साथ ही ध्यान रखा गया है कि बंद शांतिपूर्ण ही रहे। किसान नेताओं ने कहा कि कोई भी कार्यकर्ता जबरन बंद नहीं करवाएगा। इसके साथ ही सभी भारतीयों से भी कल बंद में शामिल होने की अपील की है। मंगलवार, 28 सितम्बर को शहीद भगत सिंह की जयंती किसान आंदोलन द्वारा उत्साह से मनाने के लिए बॉर्डर पर युवाओं और छात्रों को आमंत्रित किया गया है। 

भारत बंद में दावे
-केंद्र और राज्य सरकार के सभी दफ्तर और संस्थाएं, सरकारी, गैर सरकारी सार्वजनिक कार्यक्रम 
-बाजार, दुकान और उद्योग, स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटी और सभी तरह के शिक्षण संस्थान
-हर तरह का सार्वजनिक यातायात और निजी वाहन

छूट होगी 
-अस्पताल, मेडिकल स्टोर, एंबुलेंस और कोई भी मेडिकल सेवा
-फायर  ब्रिगेड, आपदा राहत आदि या व्यक्तिगत इमरजेंसी, मृत्यु, बीमारी, शादी आदि 
-स्थानीय संगठनों द्वारा दी गई और कोई भी छूट
 

comments

.
.
.
.
.