Monday, Mar 01, 2021
-->
Bihar Nitish kumar nishant kumar lalu yadav sobhnt

पिता नीतीश कुमार से ज्यादा है बेटे निशांत की संपत्ति

  • Updated on 1/2/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल।  बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish kumar) ने अपनी संपत्ति का ब्योरा जारी कर दिया है। मुख्यमंत्री ने अपनी संपत्ति में खुलासा किया है कि उनके पास 12 गाये 6 बछड़े हैं। बता दें इससे पहले नीतीश कुमार के पास 10 गायें थी और उससे पहले नीतीश कुमार के पास 8 गाये। हर साल मुख्यमंत्री के पास गायों की संख्या बढ़ती जा रही है। 

Corona वैक्सीन कोविशील्ड को मिली मंजूरी, क्या होगी डोज, कीमत, जानें हर सवाल का जवाब...

नीतीश से ज्यादा है बेटे के पास है संपत्ति
वहीं संपत्ति के मामले में नीतीश कुमार के बेेटे निशांत के मुख्यमंत्री से आगे हैं। उनके पास नीतीश कुमार से ज्यादा संपत्ति है। उनके पास करोड़ों की संपत्ति है। वहीं नीतीश के पास केवल 35 हजार रुपए कैश है। बता दें नीतीश के बेटे करोड़पति है। वहीं नीतीश कुमार के पास अभी तीन अलग-अलग खातों में उनके पास कुल साढ़े 34 हजार रुपये हैं। पिछले साल 40 हजार और 2018 में 42 हजार रुपये थे। 

कैवियार ने बनाया 20 किलोग्राम शुद्ध सोने का Sony PS5, कीमत सुनकर हैरान रह जाएंगे आप!

पिता नीतीश से ज्यादा धनी हैं बेटे निशांत
नीतीश कुमार से ज्यादा उनके पुत्र निशांत धनवान हैं। हालांकि, निशांत के पास नकद मात्र 28 हजार 297 रुपये ही हैं, लेकिन पीपीएफ खाते में 25.43 लाख रुपये जमा हैं। जबकि, 78.50 लाख रुपये फिक्स्ड डिपोजिट भी है। मुख्यमंत्री के पास 11.32 लाख की एक इको स्पोर्ट्स गाड़ी है। निशांत के पास 6.40 लाख की एक हुंडई कार है। मुख्यमंत्री के पास 98 हजार और निशांत के पास 20.73 लाख के आभूषण हैं। नीतीश के पास 16.53 लाख की चल संपत्ति है और 40 लाख की अचल संपत्ति के रूप में दिल्ली के द्वारका में फ्लैट है। निशांत की नालंदा के कल्याण बीघा, बख्तियारपुर एवं पटना की अचल संपत्तियों की कीमत एक करोड़ 48 लाख की बताई गई है। 

BCCI अध्यक्ष सौरभ गांगुली की बिगड़ी तबीयत, अस्पताल में भर्ती

जिंदगी के बारे में  सवाल पूछने का अधिकार
उन्होंने जोर दिया कि कि सिर्फ मेरी पार्टी या मेरे परिवार के सदस्यों को ही मेरे बेटे से उसकी निजी जिंदगी के बारे में सवाल पूछने का अधिकार है। उन्होंने अपने पति और राजद प्रमुख लालू प्रसाद की बिगड़ती सेहत पर भी चिंता जताई। एक वरिष्ठ मेडिकल अधिकारी को आवंटित बंगले में लालू प्रसाद के लंबे समय तक रहने का मुद्दा राजग द्वारा उठाए जाने पर अप्रसन्नता जतायी।

 लालू प्रसाद चारा घोटाले में अपनी सजा काट रहे हैं। उन्होंने कहा, यह सरकार (झारखंड) का फैसला था कि उन्हें एक बंगले में रखा जाए। काफी हो-हल्ले के बाद, उन्हें वापस अस्पताल में भेज दिया गया है। जिन्हें शिकायत है, उनको हमें निशाना बनाने के बदले सरकार से सवाल करना चाहिए। 

 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.