Sunday, Jan 23, 2022
-->
budget 2021 nirmala sitharaman fund pm narendra modi bjp government sobhnt

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा- ये बजट 'आपदा में है अवसर' की तरह

  • Updated on 2/1/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश की वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) आज वित्तवर्ष 2021 का आम बजट पेश कर रही हैं, सरकार ने इस बजट में के कई बड़ी योजनाओं का ऐलान किया है। केंद्र सरकार की तरफ से वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कोविड 19 जैसी महामारियों से निपटने के लिए की जाने वाले वैक्सीनेशन के लिए अलग से 35,000 करोड़ रुपए का प्रावधान किया है। सरकार ने इसके अलावा सरकार की तरफ से कहा गया है कि यह आपदा में अवसर की तरह है।  

जानिए, 30 लाख करोड़ वाले भारत के बजट के लिए कहां से आता है पैसा 

स्वास्थ्य क्षेत्र में अप्रत्याशित बढोत्तरी की  
वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इसके अलावा सरकार स्वास्थ्य विभाग को पैसा बढ़ाकर 94 हजार करोड़ से बढ़ाकर उसे 2.38 लाख करोड़ कर दिया गया है। सरकार ने यह बजट कोरोना से लड़ने के लिए तैयार किया गया ताकि लोगों को बेहतर स्वास्थय सुविधा दी जा सके।   

बजट से पहले कांग्रेस का कटाक्ष, कहा- वित्त मंत्री के सामने खड़ी है ये चुनौती

किसानों के लिए किए बड़े ऐलान
सराकार की तरह से वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने किसानों को खुश करने के लिए न्यून्तम समर्थन मूल्य को किसानों की उपज का डेढ़ गुना देने का प्रयास किया है। बता दें इसके अलावा भी सरकार ने किसानो को ध्यान में रखते हुए कई बड़े ऐलान किए हैं। सरकार  दिल्ली की अलग-अलगी सीमाओं पर बैठे किसानों को खुश करने के लिए ऐसा कर रही है ताकि उनका विश्वास जीता जा सके। इसके अलावा सुनने में आ रहा है कि सरकार प्रधानमंत्री किसान योजना के तहत दिए जाने  वाले सलाना 6 हजार रुपए में बढ़ोत्तरी करके 10 हजार रुपए किए जाने की उम्मीद है।     

बजट से पहले कांग्रेस का कटाक्ष, कहा- वित्त मंत्री के सामने खड़ी है ये चुनौती

100 से अधिक देशों की मद्द की
बता दें इसके अलावा सरकार ने बताया है कि उन्होंने 100 से ज्यादा देशों को कोविड के दौरान मद्द करने का जिक्र किया है, पीएम मोदी ने इसका श्रेय वैज्ञानिकों को दिया है। सरकार ने इसके लिए 4.21 करोड़ रुपए खर्च करने का प्लान किया है। वित्त मंत्री का कहना है कि भारत सही मायनों में वैज्ञानिकों और संभावनाओं की उम्मीदों की धरती बनने को तैयार है। सरकार ने इसके अलावा स्वास्थ्य क्षेत्र में अप्रत्याशित बढ़ोत्तरी की है।  

वहीं इसके अलावा 2021-22 का बजट 6 स्तंभों पर टिका है। पहला स्तंभ है स्वास्थ्य और कल्याण, दूसरा-भौतिक और वित्तीय पूंजी और अवसंरचना, तीसरा-अकांक्षी भारत के लिए समावेशी विकास, मानव पूंजी में नवजीवन का संचार करना, 5वां-नवाचार और अनुसंधान और विकास, 6वां स्तंभ-न्यूनतम सरकार और अधिकतम शासन जैसे स्तंभों पर चर्चा की है। 


 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.