Monday, Nov 29, 2021
-->
cm kejriwal gave an honorarium of one crore to the family of martyr rajesh kumar

शहीद राजेश कुमार के परिवार को सीएम केजरीवाल ने एक करोड़ की सम्मान राशि दी

  • Updated on 10/9/2021

नई दिल्ली। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को दिल्ली के रेसकोर्स क्लब में रह रहे शहीद राजेश कुमार के परिवार से मुलाकात की। दिवंगत राजेश कुमार भारतीय वायु सेना में तैनात थे और 3 जून 2019 को अरूणाचल प्रदेश में ऑपरेशनल ट्रेनिंग सॉर्टी के दौरान एक विमान दुर्घटना में शहीद हो गए थे। इस दौरान शोक संतप्त परिवार के सदस्य अपने बीच मुख्यमंत्री को पाकर अपने आंसू रोक नहीं सके।

मुख्यमंत्री ने उनके परिवार को एक करोड़ रुपए की सम्मान राशि का चेक सौंपा। मुख्यमंत्री ने कहा कि राजेश कुमार के जान की कीमत तो हम नहीं लगा सकते, लेकिन उम्मीद करता हूं कि इससे उनके परिवार को थोड़ी मदद मिलेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने राजेश कुमार की एक बहन को पहले ही सिविल डिफेंस में शामिल कर लिया है, दूसरी बहन को भी उसमें नौकरी देंगे और भविष्य में भी उनके परिवार का ख्याल रखेंगे।

दिवंगत राजेश कुमार का जन्म  28 दिसंबर 1990 को हुआ था और उनका परिवार दिल्ली के लायंस रोड इलाके में रहता है। उनकी प्रारंभिक पढ़ाई नई दिल्ली के कुशाक रोड स्थित लायंस विद्या मंदिर सेकेंडरी स्कूल से हुई। उन्होंने नोएडा स्थित नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपन स्कूलिंग से 10वीं की पढ़ाई पूरी की।

राजेश कुमार को 5 फरवरी 2015 को भारतीय वायु सेना में गैर-लड़ाकू (कर्मचारी) ‘कुक’ के पद पर नियुक्त किया गया था। नियुक्ति के बाद उन्हें प्रशिक्षण के लिए कर्नाटक के बेलगांव भेजा गया। उनकी पहली पोस्टिंग राजस्थान के उत्तरली में हुई थी। 29 वर्ष की कम आयु में शहीद हो गए। उस समय वे असम के जोरहाट में तैनात थे और अरुणाचल प्रदेश में एलजी-40 मेनचुका के लिए एक ऑपरेशनल ट्रेनिंग सॉर्टी (एयर मेंटिनेंस) पर थे। वह जिस एयर क्राफ्ट में थे, वह अरुणाचल प्रदेश की घाटी में ऊंवाई वाले इलाके में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था।

राजेश कुमार के पिता शिव राम चाणक्यपुरी के नेहरू पार्क में सुरक्षा गार्ड के रूप में कार्यरत हैं, जबकि माता राज कली हाउस वाइफ हैं। राजेश कुमार का विवाह 30 अक्टूबर 2018 को प्रीति के साथ हुआ था और उनके निधन के बाद प्रीति अपने माता-पिता के साथ नई दिल्ली के अंसारी नगर में रह रही हैं और उन्हें 4 अक्टूबर 2019 को पुत्र रत्न की प्राप्ति हुई। उनकी पत्नी प्रीति 12वीं पास हैं।

5 शहीदों के परिवारों को भी एक-एक करोड़ की आर्थिक सहायता दी 
केजरीवाल सरकार ने देश के लिए शहीद होने वाले जांबाजों के परिवारों को एक-एक करोड़ रुपए की आर्थिक सहायता दी है।‌ दिल्ली पुलिस के शहीद एसीपी संकेत कौशिक, दिल्ली पुलिस के शहीद कांस्टेबल विकास कुमार, शहीद सिविल डिफेंस कार्यकर्ता प्रवेश कुमार, एयरफोर्स के स्क्वाड्रन लीडर मीत कुमार व  एयरफोर्स के सुनीत मोहंती के परिजनों को भी आर्थिक सहायता राशि के एक-एक करोड़ के चेक सौंपे गए हैं। केजरीवाल सरकार के मंत्री, विधायक और राज्यसभा सांसद ने इन शहीदों के परिवारों को उनके आवास पर जाकर आर्थिक सहायता दी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.