Saturday, Nov 17, 2018

गिनेस बुक में दर्ज हुआ अयोध्या का नाम, एक साथ जलाए गए 3 लाख से ज्यादा दीये

  • Updated on 11/6/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पूरा देश दीपावली के त्यौहार में मगन है। इस बीच आज अयोध्या नगरी किसी दुल्हन की मानिंद सजी हुई नजर आई। आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भव्य तरीके से दीपावली का त्यौहार मनाने अयोध्या पहुंचे हैं। CM योगी के अलावा भारत दौरे पर आईं द.कोरिया की प्रथम महिला किम जुंग सुकभी अयोध्या पहुंचीं हैं। 

अपडेट:

  • द.कोरिया की प्रथम महिला किम जुंग सुक अयोध्या पहुंचीं, CM योगी भी मौजूद
  • मैं एक बार पुन हृदय से सभी का उत्तर प्रदेश की धरती पर स्वागत करता हूं: योगी आदित्यनाथ
  • अयोध्या कोरिया का ननिहाल हो गया है, यह हमारे लिए प्रसन्नता की बात है: योगी आदित्यनाथ
  • हम सभी जानते हैं कि आज से कई वर्ष पहले अयोध्या की राजकुमारी कोरिया के राजकुमार के साथ विवाह बंधन में बंधी थी। इस स्मृति को न केवल कोरिया ने अच्छे से सहेज रखा है बल्कि भारत के साथ सांस्कृतिक जुड़ाव भी मजबूत करने का प्रयास किया है: योगी आदित्यनाथ
  • सीएम योगी आदित्यनाथ ने राज्यपाल राम नाईक और कोरिया गणराज्य की प्रथम महिला के साथ की श्रीराम, सीता और लक्ष्मण के प्रतीकों की आगवानी की।
  • दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला किम जंग सूक और यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने क्वीन हाउ मेमोरियल का उद्घाटन किया।
  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कर रहे हैं राम-सीता का राज्याभिषेक।
  • भारत के विचार वसुधैव कुटुम्बकम है, इसी विचार को सभी को लोगों को आगे लेकर जाना हैः राम नाईक
  • अयोध्या में दीपोत्सव कार्यक्रम को देखने के लिए लोगों की भारी भीड़ उमड़ी।
  • पीएम नरेंद्र मोदी को भारत में आमंत्रित करने के लिए दिल से धन्यवादः किम जंग सूक, प्रथम महिला, दक्षिण कोरिया
  • पीएम नरेंद्र मोदी ने जुलाई में राष्ट्रपति मून जे इन के साथ भारत दौरे पर हमारा बहुत स्वागत किया, इस बार भी व्यस्त कार्यक्रम के बीच हमें पीएम ने समय दियाः किम जंग सूक, प्रथम महिला, दक्षिण कोरिया
  • इस समय दिवाली की अवसर पर उत्साह से भरे लोगों के चेहरे दीपों की तरह चमक रहे हैंः किम जंग सूक, प्रथम महिला, दक्षिण कोरिया
  • हरिद्वार की तर्ज पर अयोध्या में सरयू के किनारों को विकसित किया जाएगाः यूपी सीएम
  • यूपी सीएम ने भगवान राम के नाम पर अयोध्या में एयरपोर्ट का ऐलान किया।
  • अयोध्या में राजा दशरथ के नाम पर बनेगा मेडिकल कॉलेजः सीएम यूपी
  • सीएम योगी ने फैजाबाद जिले का नाम बदलकर अयोध्या किए जाने की घोषणा की है।
  • सरयू किनारे दीपोत्सव कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ और दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला किम जंग सूक, आरती में लिया हिस्सा।
  • 3,01,152 दीयों के जलने के साथ ही गिनेस बुक में दर्ज हुआ अयोध्या का नाम।

दरअसल राम मंदिर का मुद्दा भी इस वक्त काफी हद तक गर्माया हुआ है। संत समाज और पूरे देश की नजरें इस पर टिकी हुई हैं। दिल्ली में संतों की हुई मीटिंग में कहा गया कि मंदिर से कम उन्हें कुछ भी मंजूर नहीं, दूसरी ओर, सीएम योगी आदित्यनाथ पहले ही कह चुके हैं कि दिवाली पर खुशखबरी लेकर अयोध्या जा रहे हैं। 

J&K: शोपियो में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों में मुठभेड़, 2 आतंकी ढेर

आपको बता दें कि 11.30 बजे से लेकर 3.30 बजे तक तक शोभा यात्रा निकाली जाएगी जो अयोध्या की गलियों से होते हुए राम कथा पार्क पर समाप्त होगी। इससे पहले योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि राम मंदिर का प्रमाण पूछना बेकार सवाल है। राम हमारी आस्था और विश्वास का सबसे बड़ा प्रमाण हैं। राम मंदिर के लिए जनता को खुद पहल करनी पड़ेगी। इस बार दीपावली पर राम नाम का एक दीया जरूर जलाएं।

राम मंदिर पर निजी विधेयक आया तो उजागर हो जाएगा विपक्ष: मौर्य

आपको बता दें कि इस बार सरयू नदी के घाट पर तीन लाख मिट्टी के दीए जलाकर रिकार्ड बनाने की तैयारियां चल रही हैं। इसके साथ ही देश के कोने-कोने से आये रामलीला कमेटियों का भी मंचन होगा।  पिछले साल योगी सरकार ने 100 मीटर ऊंची भगवान राम की प्रतिमा लगाने की योजना का एलान किया था। तब 'नव्य अयोध्या' योजना के तहत धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए योगी सरकार ने राज्यपाल राम नाईक को प्रपोजल भी दिखाया था। लेकिन एक साल में यह योजना परवान नहीं चढ़ पाई।

धनतेरस के मौके पर गोल्ड में उछाल, 6 साल के उच्च स्तर पर

दरअसल कुछ दिन पहले ही योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि वह इस बाद दीपावली पर प्रदेश की जनता को भव्य तोहफा देंगे। जिसके चलते इसके बाद इस बात की घोषणा हो चुकी है कि अयोध्या में भगवान राम की 151 मीटर ऊंची तावें की प्रतिमा बनवाई जाएग।
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.