Thursday, Jan 27, 2022
-->
congress gulam nabi azad pm narendra modi rajya sabha speech sobhnt

विदाई भाषण में बोले गुलाम, 'मैं वो खुशकिस्मत जो कभी नहीं गया पाकिस्तान'

  • Updated on 2/9/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कांग्रेस (Congress) के दिग्गज नेता गुलाम नबी आजाद (Gulam nabi azad) राज्यसभा में कार्यकाल पूरा हो गया, ऐसे में सदन के सभी लोगों ने गुलाम नबी आजाद की तारीफ की और उन्हें उनके भविष्य के लिए बधाईयां दी, बधाई देने वाले में देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) भी शामिल थे। उन्होंने भी गुलाम के साथ अपनी दोस्ती के किस्से सुनाए। किस्से बताते हुए पीएम भावुक भी हुए। वहीं जब गुलाम नबी आजाद की बारी आई तो उन्होंने सभी का शुक्रिया अदा किया और अपनी जीवन की राजनीति पर बात की।

Uttarakhand Glacier Burst: तपोवन की सुरंग में 35 लोगों को निकालने के लिए ऑपरेशन जारी

गुलाम बोले नहीं गया कभी पाकिस्तान
गुलाम नहीं आजाद ने अपने भाषण में कहा कि मैं देश का वह खुदकिस्मत मुसलमान हूं जो कभी पाकिस्तान नहीं गया। वह कहते हैं कि आज जब मैं वहां के हालात के बारे में पढ़ता हूं तो मुझे फक्र होता है कि मैं भारतीय मुसलमान हूं। दुनिया में अगर किसी मुसलमान को खुद पर गौरव होना चाहिए तो वह भारतीय मुसलमान है। इसके अलाला गुमान ने दुनिया भर में कैसे मुस्लिम देश और मुसलमान लड़ाई लड़ रहे हैं। वह पर भी अपनी बात रखी। वह कहते हैं कि खुदा करें कि पाकिस्तान के मुसलमानों में जो बुराई है। वह कभी हमारे मुसलमानों में न आए।  

लाल किला हिंसा: सुखदेव सिंह ने पूछताछ में कबूला ये बड़ा सच, किए और भी कई चौंकाने वाले खुलासे

कश्मीर का सुनाया किस्सा
उन्होंने इसके अलावा कश्मीर के पुराने हालात पर चर्चा करते हुए बताया कि जब वह कश्मीर के सबसे बड़े SP कॉलेज में पढ़ते थे। तो उस समय राज्य में दो दिन स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता। 14-15 अगस्त को, कॉलेज में 14 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस मनाने वाले लोगों की संख्या ज्यादा थी और 15 अगस्त को मनाने वालों की कम। वह कहते हैं मैं 15 अगस्त को मनाता था। उसके बाद कई दिनों तक मैं कॉलेज नहीं जाया करता था क्योंकि उसके बाद उन्हें पिटाई खानी पड़ती थी।  लेकिन आज हम उस दौर से बाहर निकल आए हैं। 

PM नरेन्द्र मोदी ने की जो बिडेन से बात, दोनों देशों के संबंधो पर हुई चर्चा

महात्मा गांधी से सीखी देशभक्ति
गुलाम ने अपने भाषण में बताया कि उन्होंने देशभक्ति महात्मा गांधी, जवाहर लाल नेहरु और मौलाना आजाद को पढ़कर सीखी है। वह कहते हैं इसके अलावा वह पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और संजय गांधी का शुक्रिया अदा करते हैं, क्योंकि उनकी वजह से ही वह राजनीति में यहां तक पहुंचे हैं। गुलाम ने इसके अलावा पूरी दुनिया के मुस्लिम देशों और मुसलमानों की स्थिति पर भी चिंता व्यक्ति की। वह कहते हैं कि आज मुस्लिम देश एक-दूसरे से लड़ाई करते हुए खत्म हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि 30-35 सालों से अफगानिस्तान और ईराक जैसे देश एक-दूसरे से ही लड़ रहे हैं।   

 

 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.