Friday, Jul 30, 2021
-->
congress-sanjay-nirupam-ncp-bmc-kangana-ranaut-sharad-pawar-sobhnt

शरद पवार के बाद शिवसेना पर भड़के निरुपम, बोले- बदले की राजनीति की उम्र बहुत छोटी

  • Updated on 9/9/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। शिवसेना (Shiv sena) सरकार के नेतृत्व में बीएमसी (BMC) ने अभिनत्री कंगना रनौत (kangana का ऑफिस का एक हिस्सा गिरा दिया है। जिसका आलोचना अब विरोधियों के साथ सरकार के समर्थक भी कर रहे हैं। एनसीपी चीफ शरद पवार के बाद अब कांग्रेस प्रवक्ता संजय निरुपम ने भी शिवसेना को खरी-खोटी सुनाई है। निरुपम ने कहा है कि कहीं इस हरकतके बाद शिवसेना का डिमॉलिशन न शुरु हो जाए।  

बेरोजगारी के खिलाफ साथ आए सपा और कांग्रेस, कहा- आज 9 बजे 9 मिनट तक जलाएं क्रांति की मशाल 
 


बीएमसी ने की गैर जरूरी कार्यवाई
एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने कहा कि बीएमसी का ये कदम गैर जरूरी है क्योंकि मुंबई में और भी अवैध निर्माण है। 
उन्होंने कंगना को खुद बोलने का अवसर दे दिया है। मुंबई में कई अवैध निर्माण है फिर भी अधिकारियों ने कंगना के ऑफिस को गिराने का फैसला क्यों लिया। अब ये सवाल बीएसी के ऊपर खड़ा हो गया है। 

बेरोजगारी के खिलाफ साथ आए सपा और कांग्रेस, कहा- आज 9 बजे 9 मिनट तक जलाएं क्रांति की मशाल 
 

बीएमसी अधिकारी ने कहा ये
इसके पहले, नगर निकाय के एक अधिकारी ने बताया कि कि बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) ने रनौत के बांद्रा स्थित बंगले में किए गए ‘अवैध बदलाव’ को बुधवार को ढहा दिया। मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से करने संबंधी रनौत के हालिया बयान पर राज्य में सत्तारूढ़ शिवसेना ने नाराजगी जताई है। बीएमसी में भी शिवसेना का ही शासन है। 

यहां पढ़ें अन्य महत्वपूर्ण खबरें-

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.