Monday, Nov 28, 2022
-->
congress warns of strict action in tampering of rahul gandhi''''s video

राहुल गांधी के वीडियो में छेड़छाड़ मामले में कांग्रेस ने दी कड़ी कार्रवाई की चेतावनी

  • Updated on 7/3/2022

नई दिल्ली/नेशनल ब्यूरो। कांग्रेस नेता राहुल गांधी से संबंधित एक वीडियो में छेड़छाड़ कर प्रसारित करने और उनकी छवि को नुकसान पहुंचाने की कोशिश करने वालों के खिलाफ पार्टी ने कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी है। पार्टी ने यह भी साफ कर दिया है कि भविष्य में भी उसके नेताओं की छवि धूमिल करने के लिए अगर किसी ने फर्जी सूचनाएं प्रसारित की तो नतीजा भुगतने के लिए तैयार रहे।

कांग्रेस ने उदयपुर की घटना के आरोपी को ‘भाजपा का सदस्य’ बताया, BJP ने किया खंडन
कांग्रेस नेता और पार्टी के मीडिया प्रचार विभाग के प्रमुख पवन खेड़ा ने रविवार को आरोप लगाया कि भाजपा और मीडिया का एक वर्ग उनकी पार्टी तथा उनके नेताओं को बदनाम करने के लिए तथ्यों को तोडऩे-मरोड़ कर प्रसारित कर रहा है। उन्होंने अब इससे बचने की चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के वीडियो से छेड़छाड़ कर उसे प्रसारित करने के मामले में एक टीवी चैनल के खिलाफ जयपुर में एक प्राथमिकी दर्ज की गई है। इस मामले में अभी और भी कई एफआईआर दर्ज की जाएंगी। उन्होंने कहा कि फर्जी खबरें फैलाने और राहुल गांधी के वीडियो में छेड़छाड़ कर उसे साझा करने के मामले में भाजपा और उसके नेताओं के खिलाफ भी ऐसी ही कार्रवाई की जाएगी। 

कांग्रेस बोली- राहुल गांधी के वीडियो पर ‘झूठ’ फैलाने के लिए माफी मांगे BJP, नहीं तो...
आरोप है कि वीडियो में राहुल गांधी के वायनाड स्थित दफ्तर में कथित रूप से तोडफ़ोड़ करने वाले एसएफआई नेताओं के बारे में कांग्रेस नेता की टिप्पणियों को शरारतपूर्ण तरीके से इस तरह इस्तेमाल किया गया है, जिससे लगता है कि वह उदयपुर में कन्हैयालाल के हत्यारों को माफ कर रहे हैं। खेड़ा ने कहा कि कथित वीडियो को हटा लिया गया है और चैनल ने अपनी गलती मानकर इसके लिए माफी मांग ली है। लेकिन पहले ही बहुत नुकसान हो चुका है। उन्होंने चेतावनी दी कि कांग्रेस नेताओं के खिलाफ फर्जी खबरें फैलाने में शामिल सभी लोगों के खिलाफ पार्टी सख्त कार्रवाई करेगी। खेड़ा ने कहा कि पार्टी की विनम्रता को उसकी मजबूरी नहीं मानना चाहिए। 

पंजाब मंत्रिमंडल का सोमवार को होगा विस्तार, 5 विधायक बन सकते हैं मंत्री
कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि पूर्व सूचना और प्रसारण मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने गैर जिम्मेदाराना तरीके से वीडियो साझा किया और भाजपा में कुछ अन्य लोगों ने भी इसे आगे बढ़ाया। उन्होंने कहा कि पार्टी की ओर से ऐसे लोगों को अपने सोशल मीडिया प्लेटफार्म से संबंधित वीडियो हटाने के लिए जो वक्त दिया गया था, उसकी अवधि खत्म हुई। अब पार्टी संबंधित भाजपा नेताओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.