Thursday, Feb 02, 2023
-->
Congress will target the government in Parliament on many issues including inflation, Agneepath

कांग्रेस महंगाई, अग्निपथ समेत कई मुद्दों पर संसद में करेगी सरकार की घेराबंदी

  • Updated on 7/14/2022

नई दिल्ली/नेशनल ब्यूरो। संसद का मॉनसून सत्र भी हंगामा भरा रहने वाला है। कांग्रेस ने रसोई गैस की बढ़ती कीमतों, महंगाई, बेरोजगारी, सेना में भर्ती की अग्निपथ योजना और केंद्रीय जांच एजेंसियों के दुरुपयोग जैसे मुद्दों पर मोदी सरकार को घेरने की तैयारी की है।

मानसून सत्र 2022ः अग्निपथ योजना समेत इन मुद्दों पर हंगामे के आसार
संसद का मॉनसून सत्र 18 जुलाई से शुरू हो रहा है। इसके पहले वीरवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता में पार्टी के संसद मामलों के रणनीतिक समूह की बैठक हुई, जिसमें उन मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की गई, जिस पर संसद सत्र के दौरान विशेष रूप से जोर दिया जाना है। पार्टी के रणनीतिकारों का कहना है कि मुद्दों पर सदन में चर्चा कराने के लिए सरकार की घेराबंदी करने की उनकी कोशिश रहेगी। बैठक के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खडग़े ने प्रेस कान्फ्रेंस में बताया कि इस सत्र में महंगाई, अग्निपथ योजना, बेरोजगारी का मुद्दा, संघीय ढांचे पर हो रहे हमले जैसे विषयों पर सदन में चर्चा कराने पर जोर रहेगा। उन्होंने कहा कि डॉलर के मुकाबले रुपए का मूल्य घटा है और आर्थिक परिस्थिति कमजोर हो रही है। कांग्रेस का प्रयास होगा कि इस सत्र में इस बारे में भी विस्तृत चर्चा हो।

अब असंसदीय हो गए जुमलाजीवी, बालबुद्धि, जयचंद, शकुनी जैसे शब्द
खडग़े ने कहा कि हम अल्पसंख्यकों के साथ हो रहे अन्याय और ‘हेट स्पीच (घृणा फैलाने वाले भाषण)’ पर भी दोनों सदनों में चर्चा चाहते हैं। उन्होंने कहा कि केंद्रीय जांच एजेंसियों का जिस तरह से दुरुपयोग किया जा रहा है और बेरोजगारी जैसे जनहित के अन्य मुद्दों को भी सदन में उठाया जाएगा। भारतीय सीमा में चीन की घुसपैठ, वन संरक्षण नियम जैसे मुद्दे पर इस सत्र के अहम मुद्दे होंगे। उन्होंने कहा कि एक सबसे अहम विषय है बैंकों के निजीकरण का, जिन्हें सरकार ने पहले 27 से घटा कर 22 किया और उन्हें 20 में समेटने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा कि 17 जुलाई को समान विचारों वाले विपक्ष के बाकी दलों के नेताओं की बैठक बुलाई गई है, उसमें इन मुद्दों को सदन में उठाने को लेकर चर्चा होगी। कांग्रेस नेता ने दावा किया कि संसद सत्र से पहले होने वाली सर्वदलीय बैठकों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आखिरी समय में आते हैं और अपनी बात कहते हैं, किसी की सुनते नहीं न ही चर्चा में हिस्सा लेते हैं। सिर्फ तस्वीरें खिंचवाते हैं।

रसातल में जा रहे रुपये को बचाने के लिए भाजपा सांसद वरुण गांधी ने RBI से लगाई गुहार
वहीं, लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि मुद्दों की कमी नहीं है, बशर्ते सदन सामान्य रूप से चले और विपक्ष को बोलने का पूरा मौका मिले। उन्होंने कहा कि सदन में विपक्ष की आवाज को दबाने की कोशिश की जाती है। बैठक में खडग़े और चौधरी के अलावा शक्ति सिंह गोहिल, मणिकम टैगोर समेत कई वरिष्ठ नेता शामिल थे।

comments

.
.
.
.
.