Sunday, Apr 18, 2021
-->
coronavirus corona vaccine narendra modi vaccination bharat biotech sobhnt

Covaxin पर सवाल उठाने वाले को पीएम मोदी ने दिया जवाब, टीका लगवाकर दिया संदेश

  • Updated on 3/1/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। देश में कोरोना टीकाकरण का पहला चरण 16 जनवरी को शुरु हुआ था। जिसके बाद विपक्षी पार्टियों और कुछ लोगों ने यह कहना शुरु कर दिया था कि सरकार को सबसे पहले कोवैक्सीन का डोज लेना चाहिए। कुछ चिकित्सकों ने भी आवाज उठाते हुए कोवैक्सीन की जगह कोविशील्ड का टीका लगवाने की बात कही थी। सरकार में विपक्ष सरकार और सरकारी कंपनी भारत बायोटेक को लेकर सवाल उठा रहा था। वह भारत बायोटेक के तीसरे ट्रायल के परिणाम  के आंकड़े भी उजागर करने की बात कर रहा था। इसी बीच आज दूसरे चरण की शुरुआत में ही देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोवैक्सीन का पहला डोज लेकर सभी को जवाब देने की कोशिश की है।  

Sweden की दिग्गज कंपनी IKEA भारत से बढ़ाएगी खिलौनों की खरीद

प्रधानमंत्री ने विपक्षियों को दिया जवाब
प्रधानमंत्री ने आज सुबह एम्स जाकर अचानक से कोवैक्सीन का डोज लिया है और साथ-साथ आम लोगों से भी कोरोना वैक्सीनेशन में भाग लेने की अपील की है। उन्होंने एक तरह से कोवैक्सीन का डोज लेकर ऐसे लोगों को जवाब देने की भी कोशिश की है। जो इस वैक्सीन पर सवाल उठा रहे थे। साथ ही साथ कोवैक्सीन की विश्वसनीयता को भी खत्म करने की कोशिश की है।     

राम मंदिर निर्माण के लिए निधि समर्पण अभियान हुआ खत्म, 2100 करोड़ की राशि हुई प्राप्त 

कांग्रेस ने उठाए थे सवाल
बता दें कोरोना वैक्सीन का पहला चरण शुरु होने के बाद कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कोवैक्सीन पर सवाल उठाते हुए पीएम मोदी से पहले कोरोना वैक्सीन लगवाने की बात कही थी। उन्होंने कहा था कि पीएम मोदी को विश्वसनीयता बनाए रखने के लिए सबसे पहले टीका लगवाना चाहिए था। जिसके जवाब में बीजेपी की तरफ से कहा गया था कि पीएम मोदी अपनी बारी आने पर टीका लगवाएंगे। इसके अलावा कांग्रेस नेता शशि थरुर ने भी इसके लिए तीसरे ट्रायल के परिणामों को सामने रखने के बाद टीका लगाने की बात कही थी। उन्होंने कहा था कि इसके परिणाम गलत हो सकते हैं। 

Corona Vaccination: आज से शुरू हो रहा है दूसरे चरण का कोरोना वैक्सीनेशन, ऐसे करें रजिस्ट्रेशन 

भारत को कोविड​ मुक्त बनाएंगे​​​​​​
उन्होंने कहा कि मैं उन सभी लोगों से कोरोना वायरस का टीका लगवाने की अपील करता हूं, जो इसके पात्र हैं। हम सब मिलकर भारत को कोविड-19 से मुक्त बनाएंगे। दूसरे चरण के टीकाकरण अभियान के तहत, एक मार्च से वरिष्ठ नागरिकों और गंभीर बीमारियों से पीड़ित 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को टीका लगाया जाएगा। टीकाकरण के लिए लोग कोविन टू-पाइंट जीरो पोर्टल या आरोग्य सेतु जैसे अन्य आई टी ऐप्लीकेशन पर अपना पंजीकरण करा सकेंगे। 
 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.