Monday, Oct 03, 2022
-->
coronavirus noble prize smriti irani child pornography kailash satyarthi  sobhnt

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी बोलीं- सरकार संसद में लाएगी एंटी ट्रैफिकिंग बिल

  • Updated on 9/10/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कोरोना वायरस (Coronavirus) महमारी की वजह से बच्चों पर मड़राते वैश्विक संकट पर चर्चा के लिए आयोजित दो दिवसीय लॉरियेट्स एंड लीडर्स फॉर चिल्‍ड्रेन समिट (laureates and leaders for children summit) को संबोधित करते हुए भारत की महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती स्‍मृति जुबीन ईरानी (Smriti Irani) ने देश के बच्चों के प्रति अपनी संवेदनशीलता और बाल अधिकारों के प्रति अपनी प्रतिबद्धता जाहिर की।

कैलाश सत्यार्थी ने किया सम्बोधित
नोबेल शांति पुरस्कार (Nobel Prize) विजेता श्री कैलाश सत्यार्थी के नेतृत्व में आयोजित इस सम्मेलन में उन्होंने नोबेल विजेताओं और वैश्विक नोताओं को संबोधित करते हुए कहा कि उनकी सरकार बच्चों के हितों को प्राथमिकता देती है। स्मृति ईरानी ने बच्चों और महिलाओं की ट्रैफिकिंग पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि वह बच्चों और महिलाओं की ट्रैफिकिंग को लेकर संवेदनशील हैं और इस दिशा में कानून बनाने के लिए प्रयासरत हैं। भारत सरकार संसद में एंटी ट्रैफिकिंग बिल लाएगी। 

 राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के खाते से जालसाजों ने निकाले लाखों रुपए, मामला दर्ज

चाइल्ड पार्नोग्राफी पर दिया खास ध्यान
स्मृति जुबीन ईरानी ने आगे कहा कि कोविड़ से पहले बच्चों को यौन शोषण से बचाने के लिए उनकी सरकार ने कठोर कानून बनाया। इस कानून के तहत चाइल्ड पार्नोग्राफी (Child pornography) का उपयोग करने वालों के खिलाफ कार्रवाई पर खास ध्यान दिया गया है। अब भारत सरकार बच्चों को कोविड-19 महामारी के दुष्प्रभावों से बचाने के लिए राज्य सरकारों के साथ मिल कर हर संभव प्रयास कर रही है। ट्रैफिकिंग को रोकने के लिए हर जिले में एंटी ट्रैफिकिंग यूनिट बनाया जा रहा है। 

Morning Bulletin: सिर्फ एक क्लिक में पढ़ें, अभी तक की बड़ी खबरें

बच्चों की सुरक्षा पर दिखाई गंभीरता
उन्होंने कहा कि बच्‍चों की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के प्रति वह गंभीर हैं और उद्योगों की सप्लाई-चेन यानी आपूर्ति श्रृंखला बालश्रम मुक्‍त हो, इस दिशा में सरकार काम कर रही है। लॉकडाउन के दौरान कोविड-19 से प्रभावित बच्चों का चिंता भारत सरकार को है और वह उनकी हर संभव मदद कर रही है। 

अधीर रंजन चौधरी को मिली पश्चिम बंगाल कांग्रेस की कमान, विधानसभा चुनावों की तैयारी में पार्टी

इन हस्तियों ने की शिरकत
कैलाश सत्यार्थी चिल्ड्रेन्स फाउंडेशन का यूएस चैप्टर 9 और 10 सितंबर को इस समिट का आयोजन कर रहा है। श्री कैलाश सत्यार्थी की अगुआई में आयोजित इस समिट में शामिल होने वाली प्रमुख हस्तियों में नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित प्रसिद्ध तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा, स्वीडन के प्रधानमंत्री श्री स्टीफन लोफवेन, भारत की महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमति स्मृति ईरानी, यूनिसेफ की कार्यकारी निदेशक हेनरिता फोर, विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक डॉ. टेड्रोस घेब्रेयसस, अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन के महानिदेशक श्री गाय राइडर के नाम शामिल हैं। इसके अलावा नोबेल शांति विजेताओं में श्री लेहमाह गॉबी, श्रीमति तवाकोल कर्मन, श्री मुहम्मद यूनुस और श्री जोडी विलियम्स सहित कई अन्य वैश्विक नेता भी सम्मेलन को संबोधित करेंगे।

comments

.
.
.
.
.