Wednesday, Oct 05, 2022
-->
Country will run by constitution, not by Shariat, Jihad, Hinduist organizations will raise

देश संविधान से चलेगा, शरीयत, जिहाद से नहीं, संकल्प बुलंद करेंगे हिन्दूवादी संगठन

  • Updated on 7/7/2022

नई दिल्ली/ अनिल सागर। अमरावती में केमिस्ट उमेश कोल्हे और उदयपुर में कन्हैयालाल की हत्या के बाद अब देश की राजधानी में  भारत संविधान से चलेगा, शरीयत या जिहाद से नहीं। इसीलिए अब समस्त हिन्दू समाज का संकल्प मार्च आयोजित किया जाएगा। यह मार्च हिन्दू संगठनों के साथ-साथ साधू संतों के सानिध्य में आयेाजित किया जा रहा है और इसमें राष्ट्रीय स्वंय सेवक की भी सक्रिय भूमिका रहेगी। 
    शनिवार को आयोजित होने वाले संकल्प मार्च में भारतीय ध्वज व भगवा को लहराते हुए पूरी दिल्ली से आई हुई टोलियां मंडी हाउास से शुरू होकर जंतर मंतर पहुंचेंगी। जंतर मंतर पर मंच बनाया जा रहा है जहां पर देश भर के प्रतिठिष्त साधू-संत विराजमान रहेंगे। साधू संत इस आवाज को बुलंद करेंगे कि देश संविधान के अनुसार चलेगा। शरीयत या जिहादी मानसिकता से नहीं। 
       इस पूरे कार्यक्रम को राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ की देखरेख में किया जाएगा और संभव है कि प्रांत कार्यवाह, प्रांत प्रचारक, प्रांत स्तर के अन्य पदाधिकारी भी कार्यक्रम में शिरकत करें। इसके लिए व्यवस्था का जिम्मा हिन्दूवादी नेताओं के साथ-साथ भाजपा से जुड़े पदाधिकारियों को दी गई है।

सूत्रों की माने तो मंच पर राजनीतिक दल के नेताओं की मौजूदगी नहीं होगी लेकिन मंच से पूरे देश में हिन्दू धर्मावलंबियों द्वारा सख्त संदेश देने की तैयारी जरूर की जा रही है।  इस बाबत वीरवार को भी कई बैठकों का आयेाजन किया गया और आरएसएस, भाजपा के अलावा बाकी हिन्दुवादी संगठनों ने इन बैठकों में शिरकत की।  
 

comments

.
.
.
.
.