Saturday, Jun 03, 2023
-->
delhi-s-education-is-a-living-example-of-corruption-adesh-gupta

दिल्ली का शिक्षा मॉडल भ्रष्टाचार का जीता जागता नमूना: आदेश गुप्ता

  • Updated on 10/6/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि मनीष सिसोदिया को जितनी चिंता दूसरे राज्यों के स्कूल और वहां पढऩे वाले बच्चों की है उससे 10 फ़ीसदी चिंता अगर वह दिल्ली की कर लेते तो आज दिल्ली में बच्चे दो-दो शिफ्टों में पढऩे को मजबूर नहीं होते। 
        उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकार जिस सैनिक स्कूल के प्रचार के लिए इतनी जोर जबरदस्ती की लेकिन फिर उसे निजी हाथों में बेचने का काम किया। आदेश गुप्ता ने कहा कि दिल्ली सरकार के स्कूलों में कमरों की कमी इतनी ज्यादा है कि कक्षा 6 से 11 तक की क्लास दो दिन बाद लगाई जाती है। दिल्ली के सरकारी स्कूलों में प्रधानाचार्य के 84 फीसदी, उपप्रधानाचार्य के 34 फीसदी, टीजीटी शिक्षकों के 40 फीसदी और पीजीटी शिक्षकों के 22 फीसदी पद खाली पड़े है। 
      आदेश गुप्ता ने कहा कि दिल्ली शिक्षा व्यवस्था को विश्व का बेहतरीन मॉडल बताने वाले केजरीवाल के इस मॉडल में गरीब आदमी के बच्चे बिना शिक्षक पढऩे को मजबूर है। उन्होने आरोप लगाया कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का शिक्षा मॉडल पूरी तरह ध्वस्त हो चुका है और अब उन्होंने अपने करीबी आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं को स्कूल सौंपना शुरु कर दिया है। करोड़ों रुपए का यह भ्रष्टाचार वास्तव में दिल्ली का शिक्षा मॉडल है और केजरीवाल का हर कार्य भ्रष्टाचार से शुरु होता है और वे भ्रष्टाचार के लिए ही काम करते हैं ताकि उन्हें हर समय पैसों की उगाही हो सके। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.